Breaking News

गाजीपुर: कूड़े में मिली आयरन गोली पर बैठी जांच

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर शहर के अफीम फैक्ट्री के पास कूड़े में मिली आयरन की गोली को लेकर स्वास्थ्य विभाग सख्त हो चुका है। सीएमओ के निर्देश पर पूरे मामले जांच शुरू हो चुकी है। एसीएमओ के नेतृत्व में गठित टीम डिब्बे पर अंकित बैच नंबर के आधार पर छानबीन कर रही है। ऐसे में टीम उन दोषी कर्मियों के पास पहुंचने का प्रयास कर रही है, जिन्हें दवा वितरित करने के लिए विद्यालयों में भेजा गया था। यह कारनामा करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों में खलबली की स्थिति बनी हुई है।

शासन की ओर से विद्यालयों में पढ़ने वाली किशोरियों व अन्य महिलाओं के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन किया जाता है। इसके तहत उन्हें आयरन की गोली भी वितरित की जाती है। खासकर सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा सरकारी विद्यालयों में वितरित करने के लिए माइक्रो प्लान के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्वास्थ्य कर्मियों को गोली दी जाती है। साथ ही दवा के डिब्बे पर अंकित बैच नंबर का लेखा-जोखा भी रखा जाता है, जिससे किसी भी शिकायत के समय उसका मिलान कर कार्रवाई की जा सके। 

फिलहाल बड़े पैमाने पर अफीम फैक्ट्री के पास कूड़े में फेंकी मिली आयरन की गोलियों को कब्जे में लेने के साथ डिब्बे पर अंकित बैच नंबर के हिसाब से पूरा ब्योरा जुटाने में जांच टीम लगी हुई है। इस संबंध में जांच अधिकारी डा. आरके सिन्हा ने बताया कि किस बैच की दवा किस टीम को दी गई है, इसकी जांच की जा रही है। जल्द ही दोषी कर्मी तक टीम पहुंच जाएगी। साथ ही दो से तीन दिन के अंदर रिपोर्ट सीएमओ को सौंप दी जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();