Breaking News

8 इंटरनेशनल, 20 नेशनल अवार्ड जीतने वाली रिया को रिपब्लिक डे पर सम्‍मान, PM को देंगी यह गिफ्ट

रिया की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 24 जनवरी को मुलाकात होगी और 26 जनवरी को रिया गणतंत्र दिवस की परेड़ में शिरकत करने जा रही हैं.
कला उम्र की मोहताज नहीं होती. 16 साल की रिया जैन को देखकर आप भी हैरान हो जाएंगे कि इतनी सी उम्र में आखिर कोई कैसे इतना हुनरमंद हो सकता है. रिया सिर्फ 16 साल की उम्र में 8 अंतरराष्ट्रीय और 20 राष्ट्रीय पुरस्कार हासिल कर चुकी हैं.


हम ये सब आपको इसलिए बता रहे हैं क्योंकी रिया को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अब राष्ट्रपति भवन में 22 जनवरी को बाल शक्ति पुरस्कार से सम्मानित करने जा रहे हैं. ये पुरस्कार रिया को कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में दिया जा रहा है.

पीएम मोदी के लिए खास तोहफा
रिया की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 24 जनवरी को मुलाकात होगी औऱ 26 जनवरी को रिया गणतंत्र दिवस की परेड़ में शिरकत करने जा रही हैं. रिया बीते कई सालों से पीएम मोदी से मिलना चाहती थीं और उनकी अब वो हसरत पूरी होने जा रही है.


इतना ही नहीं पीएम मोदी से मिलने के लिए रिया ने अभी से काफी तैयारियां कर रखी हैं. रिया मोदी जी के लिए उनकी और उनकी मां की एक तस्वीर बना रही हैं. साथ ही रिया के मन में कई सारे सवाल हैं जो वो पीएम मोदी से पूछने वाली हैं. रिया पीएम मोदी से पूछना चाहती हैं कि क्या देश के लिए काम करते समय उन्हें उनकी मां की याद नहीं आती.

मैं पीएम मोदी को एक पेंटिंग गिफ्ट करूंगी. जब मैं उनसे मिलूंगी तो उनसे ज़रूर पूछूंगी कि जब वो देश के लिए इतने बिज़ी रहते हैं तो क्या तब उन्हें अपनी मां की याद नहीं आती. कभी क्या अकेलापन नहीं लगता?
रिया के मन में एक औऱ सवाल है कि क्या देश का नाम इंडिया से बदलकर भारत नहीं किया जा सकता. रिया ने टीवी 9 भारतवर्ष से बातचीत में बताया कि उनके गुरुजी कहते हैं कि इंडिया नहीं बल्कि देश का जब भी ज़िक्र करो भारत कहा करो. रिया पीएम मोदी से पूछना चाहती हैं कि देश को इंडिया क्यों कहा जाता है, क्या भारत नहीं बोला जा सकता?

मैं उनसे पूछूंगी कि क्या हमारे देश का नाम भारत नहीं हो सकता क्योंकि इंडिया नाम अंग्रेज़ों द्वारा दिया गया था. देश का नाम भारत हो सकता है क्या? हमारे गुरुजी कहते हैं कि इंडिया नहीं भारत बोलो.


कराटे भी जानती है रिया
रिया 11वीं क्लास में भोपाल के एक निजी स्कूल में पढ़ती हैं. रिया को 95 पुरस्कार सिर्फ पेंटिंग प्रतियोगिताओं में मिले हैं. इसके अलावा 45 पुरस्कार अलग-अलग प्रतियोगिताओं में मिल चुके हैं. रिया कराटे, साहित्य और अबेकस में भी पारंगत हैं.

जुलाई 2019 में रिया को विज्ञान भवन में पुरस्कार दिया गया था, तब उनकी इच्छा थी कि वो पीएम मोदी से मिलें. रिया के पिता श्रेयांश कुमार जैन का कहना है कि उन्हें अपनी बेटी की उपलब्धि से काफी खुशी होती है. वो कहते हैं कि उन्हें बहुत अच्छा लगता है कि बेटी रिया ने सिर्फ उनका नहीं बल्कि पूरे भोपाल का नाम रोशन किया. इससे बड़ा सम्मान नहीं हो सकता. ये उसकी मम्मी की मेहनत है कि यह सब उसको प्राप्त हुआ है.


वहीं रिया के भाई का कहना है कि उन्हें बहुत प्राउड फील होता है और अपनी बहन की उपलब्धियां देखकर उन्हें अच्छा लगता है.

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();