आजमगढ़ में CAA-NRC प्रोटेस्ट के दौरान महिलाओं और पुलिस में झड़प, मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना समेत 12 हिरासत में - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

बुधवार, 5 फ़रवरी 2020

आजमगढ़ में CAA-NRC प्रोटेस्ट के दौरान महिलाओं और पुलिस में झड़प, मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना समेत 12 हिरासत में

आजमगढ़ (Azamgarh) में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर पुलिस ने धर्म गुरु मौलाना ताहिर मदनी समेत 12 लोगों को हिरासत में लिया. पुलिस लाइन में सभी को नजरबंद किया गया है. वहीं एहतियातन बिलरियागंज में पीएसी के साथ थाना पुलिस तैनात कर दी गई है.
गाजीपुर न्यूज़ टीम, आजमगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आजमगढ़ (Azamgarh) जिले के बिलरियागंज कस्बे में स्थित जौहर अली पार्क देखते ही देखते दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में तब्दील हो गया. यहां मंगलवार दोपहर से नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) के खिलाफ बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं प्रदर्शन कर रहीं थी. बिना अनुमति चल रहे इस विरोध-प्रदर्शन को समाप्त कराने के लिए पुलिस ने प्रयास किया लेकिन वो इसमें असफल रहे. जिसके बाद पुलिस ने आला अधिकारियों को सूचना दी. सूचना के बाद देर शाम जिलाधिकारी (डीएम) और पुलिस अधीक्षक (एसपी) मौके पर भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे और प्रदर्शनकारियों समझाने-बुझाने के लिए घंटों कोशिश करते रहे. लेकिन प्रर्दशनकारी अपने विरोध पर अड़े रहे.


पार्क में पानी डालकर खत्म करा दिया प्रदर्शन
आखिरकार पुलिस ने देर रात विरोध-प्रदर्शन को खत्म करने के लिए पार्क में पानी डाल दिया. जिसके बाद देर रात महिलाएं उग्र होकर प्रदर्शन करने लगीं. तनाव के माहौल को देखते हुए पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया. इस दौरान पुलिस और महिलाओं के बीच नोंक-झोंक हुई. पथराव भी हुआ. जिसे पुलिस ने हल्के बल प्रयोग के साथ नियंत्रित कर लिया. आखिरकार पुलिस ने घंटों की मशक्कत में बाद मुस्लिम महिलाओं के प्रदर्शन को खत्म करवा दिया. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक पार्क को प्रदर्शनकारियों से पूरी तरह से खाली करा लिया गया है.


पुलिस ने महिलाओं पर लाठीचार्ज से किया इनकार 
वहीं मुस्लिम नेताओं ने पुलिस और प्रशासन पर महिलाओं पर लाठीचार्ज करने का आरोप लगाते हुए लड़ाई जारी रखने का फैसला लिया. लेकिन पुलिस का दावा है कि पार्क में प्रदर्शनकारी महिलाओं पर कोई लाठीचार्ज नहीं हुआ था.
वहीं प्रदर्शन को लेकर पुलिस ने धर्म गुरु मौलाना ताहिर मदनी समेत 12 लोगों को हिरासत में लिया. इन सभी को पुलिस लाइन में नजरबंद किया गया है. एहतियातन बिलरियागंज में पीएसी के साथ थाना पुलिस तैनात कर दी गई है.(इनपुट: अभिषेक उपाध्याय)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad