गाजीपुर: आधी रात उपद्रवी गांवों में पहुंचे एसपी, छह महिलाएं गिरफ्त में - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, गाजीपुर अपराध समाचार

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, 3 फ़रवरी 2020

गाजीपुर: आधी रात उपद्रवी गांवों में पहुंचे एसपी, छह महिलाएं गिरफ्त में

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सुहवल थाना क्षेत्र के सरैयां और कासिमपुर गांव में दो दिनों से हो रहे बवाल पर पुलिस प्रशासन गंभीर हो गया है। यहां तक कि पुलिस अधीक्षक डा. ओपी राय रविवार की रात खुद सरैयां व कासिमपुर गांव पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। फिलहाल मामला तो शांत हो गया है, लेकिन अभी भी तनाव व्याप्त है। रविवार को भी दोनों गांव के लोगों ने न सिर्फ एक-दूसरे पर जमकर पत्थरबाजी कि बल्कि तोड़फोड़ भी किया है। इसको लेकर सुहवल पुलिस ने सरैयां के प्रधान गुड्डू बिद व कासिमपुर के पूर्व प्रधान मुरारी बिद के खिलाफ फिर मुकदमा दर्ज किया है। इसके साथ ही 14 नामजद व 80 अज्ञात के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर उन्हें चिन्हित करने का काम तेज कर दिया है।

पुलिस अधीक्षक के रात में भ्रमण के बाद सोमवार की सुबह एसपीआरए चंद्रप्रकाश शुक्ला, सीओ सिटी ओजस्वी चावला, सुहवल, जमानियां, करंडा, बारा, नगसर, रेवतीपुर थाने की फोर्स सहित विभिन्न थानों की करीब 50 की संख्या में महिला पुलिसकर्मी गांव में पहुंच गईं। एक-एक घरों में दबिश देकर करीब आधा दर्जन महिला उपद्रवियों को गिरफ्तार किया। पुलिस की सख्ती से ग्रामीणों में दहशत है और दोनों गांवों में सन्नाटा पसरा हुआ है। रात व दिन दोनों समय जब मौका मिल रहा है पुलिस द्वारा लगातार दबिश दी जा रही है। दो दिनों तक चले भीषण बवाल के बाद पुलिस ने सरैयां के प्रधान गुड्डू बिद व कासिमपुर के पूर्व प्रधान मुरारी को मुख्य आरोपी मानते हुए इनके खिलाफ रविवार को भी फिर से मुकदमा दर्ज किया। यह दोनों मौके से फरार हैं और उनके घर सिर्फ महिलाएं और बच्चे ही हैं। नाव के सहारे सभी आरोपियों के फरार हो जाने से पुलिस को इनकी तलाश में काफी परेशानी भी हो रही है।


स्थिति को सामान्य करने का प्रयास जारी है। फिलहाल गांव में स्थिति नियंत्रण में होने के साथ ही मामला पूरी तरह शांत है। उपद्रवियों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। गांव में व्याप्त तनाव को देखते हुए पर्याप्त संख्या में पुलिस फोर्स कैंप किए हुए है।- चंद्र प्रकाश शुक्ला, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad