गाजीपुर: नहर की सफाई में धन का हुआ बंदरबांट - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

गुरुवार, 6 फ़रवरी 2020

गाजीपुर: नहर की सफाई में धन का हुआ बंदरबांट

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर मुहम्मदाबाद बाराचवर ब्लाक के बरेसर, हरदासपुर, गड़ार तक तीन दशक पहले खोदी गई नहर केवल सफाई के नाम पर धन उतारने का माध्यम बन गयी है। इस नहर से शुरूआत में एक बार पानी छोड़ा गया था। उसके बाद से आज तक पानी नहीं छोड़ा जा सका। मजबूरी में किसान निजी नलकूपों से खेतों की सिचाई कर रहे हैं।
बीते वर्ष नहर की सफाई शुरू हुई तो क्षेत्र के किसानों में आस जगी कि अब सिचाई आसान हो जाएगी लेकिन किसानों की उम्मीद पर तब पानी फिर गया जब आधा-अधूरा साफ सफाई करके छोड़ दिया गया। वहीं आज तक उसमें पानी नहीं छोड़ा जा सका। देवकली पंप कैनाल से निकली यह नहर बरेसर से बाराचवर ब्लाक में प्रवेश करती है। नहर भवदास, ढोटारी, हटौरा, अमवां सिंह, सिउरीअमहट, बांकी, राजापुर, असावर, कमसड़ी, हरदासपुर, गोविदपुर होते हुए गड़ार फाटक से टोंस नदी में गिर जाती है। इन गांवों के आसपास हजारों बीघा भूमि में किसान खेती करते हैं। नहर में पानी न आने से उन्हें निजी नलकूपों से सिचाई करना पड़ रहा है जिससे उन्हें आर्थिक नुकसान होता है। क्षेत्र के किसानों का कहना है कि नहर की सफाई कर अगर पानी छोड़ा जाता तो खेती में काफी सहूलियत होती।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad