Breaking News

लॉकडाउन के चलते दो बारातियों संग निकाह करने पहुंचा दूल्हा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, सोनभद्र उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के दुद्धी में लॉकडाउन के चलते बारात में दूल्हे के साथ सिर्फ दो बाराती शामिल हुए, वह भी एक गांड़ी से आए हुए थे। निकाह के बाद दुल्हन अपने पति के साथ छत्तीसगढ़ होते हुए झारखण्ड की सीमा तक गई। वहां कनहर नदी पुल को पैदल पार किया और दूसरी गाड़ी से अपने ससुराल भंडरिया चली गई।

दुद्धी के अमवार चौकी क्षेत्र व बभनी ब्लॉक के डूब क्षेत्र कोरची गांव में मंगलवार एक बारात आई। बारात में सिर्फ एक दूल्हा और दो बाराती थे। यह बारात झारखंड के भंडरिया गांव से यह बारात मंगलवार को आई थी। भंडरिया से तीन वाहनों पर चली 9 लोगों की बारात जैसे ही झारखंड सीमा पर रामानुजगंज पहुंची तो झारखंड के प्रशासन ने सील बॉर्डर पर वाहनों को रोक लिया। इस पर लड़के के पिता ने दुल्हन के पिता से फोन पर बात की, तो कोरची से लड़की के पिता किसान जसीम ने उन्हें लाने के लिए एक बोलेरो भेजा।

मंगलवार की दोपहर 12 बजे बारात पहुंची। ग्राम प्रधान गंभीरा ने बताया कि जसीम खेती किसानी करता है। उसकी बेटी का निकाह की तारीख महीनों पूर्व 24 मार्च तय की गई थी। इसी दौरान कोरोना महामारी के प्रकोप से गत दिनों झारखंड सहित आज उत्तर प्रदेश भी लॉकडाउन हो गया। जिसके कारण बारात लाने में जब वाहन की अनुमति नहीं मिली तो निकाह करने के लिए दूल्हे के साथ सिर्फ दो बाराती ही आये।

तय समय पर निकाह पढ़ा गया। उसके बाद बारात दुल्हन को विदा करा कर ले गए। दुल्हन के पिता जसीम ने बताया कि बारात में दामाद जुबैर आलम के साथ समधी खुर्शीद आलम व एक गवाह के रूप में महिला शकीला आई थी। निकाह के बाद बोलेरो वाहन से उन्हें रामानुजगंज तक भिजवाया।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();