Breaking News

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से मौत का टूटा रिकॉर्ड, एक दिन में गई सबसे ज्यादा लोगों की जान

गाजीपुर न्यूज़ टीम, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में एक ओर जहां रोज कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में तेजी से इजाफा होता जा रहा है, वहीं दूसरी ओर इस बीमारी से मरने वालों की संख्या भी बहुत तेजी से बढ़ रही है। शुक्रवार को तो इस कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों का रिकॉर्ड ही टूट गया। एक दिन में 14 लाेगों की माैत हो गई। जो यूपी में एक दिन में जान गंवाने वालों की संख्या के लिहाज से सबसे ज्यादा है।

प्रदेश में गुरुवार तक कुल 138 मौतें हुई थीं। शुक्रवार को यह आंकड़ा बढ़कर 152 पहुंच गया। इस बीच, प्रदेश भर में 232 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें अकेले जौनपुर के 43 मरीज हैं। अब तक यूपी में कोरोना के 5735 पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। कुल संक्रमित मरीजों में 1361 प्रवासी मजदूर हैं। शुक्रवार को 120 मरीज ठीक होकर अस्पताल से घर चले गए। अब तक कुल् 3324 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। 

आगरा में हुई है सबसे ज्यादा मौत :
उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा मौत आगरा शहर में हुई है। यहां अब तक 33 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आकर दम तोड़ चुके हैं। मेरठ में 21,मुरादाबाद में 11,अलीगढ़ में 10, कानपुर नगर में 9, फिरोजाबाद में छह, नोएडा में पांच और  झांसी, मथुरा, संतकबीर नगर व वाराणसी में चार-चार मौतें हुई हैं। प्रयागराज, अयोध्या, गोरखपुर में तीन-तीन मौतें हो चुकी हैं। गाजियाबाद, बस्ती, लखनऊ,जौनपुर, प्रतापगढ़, जालौन, मैनपुरी और एटा में दो-दो मौत हुई हैं। अमरोहा, बुलंदशहर,श्रावस्ती, बरेली, कानपुर देहात, बिजनौर, ललितपुर, हापुड़, महोबा, आजमगढ़, कुशीनगर, रायबरेली,  महराजगंज, अम्बेडकरनगर, उन्नाव और  चित्रकूट में कोरोना से एक-एक मरीज की जान गई है। 


घर लौटे 764 प्रवासियों में कोरोना के लक्षण
उत्तर प्रदेश में 764 प्रवासी श्रमिकों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं । इनके नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। आशा बहुएं लगातार प्रवासी श्रमिकों की ट्रैकिंग कर रहीं हैं । करीब अब तक 658982 श्रमिकों की ट्रैकिंग हो चुकी हैं । प्रवासी श्रमिकों में संक्रमण का प्रतिशत काफी ज़्यादा है।  


यह जानकारी चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना अवनीश अवस्थी के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी। उन्होंने बताया कि 60 साल के ऊपर बुज़ुर्गों में संक्रमण का प्रतिशत काफी काम हुआ है। एक माह पहले 60 साल के ऊपर के बुज़ुर्ग 9 प्रतिशत के हिसाब से संक्रमित हो रहे थे, अब वही प्रतिशत 6.5 रह गया है।

श्री प्रसाद ने बताया कि पीछे 24 घंटों में 7249 टेस्टिंग हुईं हैं । 928 पूल टेस्टिंग के लिए लगाए गए। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को चिन्हित करने में आरोग्य सेतु ऍप का बखूबी इस्तेमाल किया जा रहा है। संक्रामक रोग के कण्ट्रोल रूम से भी 29010 लोगों को फ़ोन कॉल की गईं हैं। उन्होंने बताया कि सर्विलांस की टीमें कन्टेनमेंट क्षेत्र में साढ़े तीन करोड़ लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ले चुकीं हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();