Breaking News

क्राइम ब्रांच के साथ मुठभेड़ में वांटेड अपराधी गिरफ्तार, 20 से अधिक थानों में है FIR

गाजीपुर न्यूज़ टीम, लखनऊ, उत्तर प्रदेश के राजधानी में लॉकडाउन में प्रशासन अपराधियों पर शिकंजा कस रही है। क्राइम ब्रांच और इंदिरानगर पुलिस की संयुक्त टीम ने एनकाउंटर के दौरान वांटेड लिस्ट के टॉप 2 अपराधी मड़ियांव निवासी जावेद उर्फ पप्पू को गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ चौक, वजीरगंज, नाका, अलीगंज, महानगर समेत 20 से अधिक थानों में पूर्व से दो दर्जन से अधिक एफआइआर दर्ज हैं। 

आरोपित किसी बड़ी लूट की घटना के फिराक में जा रहा था। पिकनिक स्पॉट और रसूलपुर तिराहे के बीच मुखबिर की सूचना पर इंस्पेक्टर इंदिरानगर व क्राइम ब्रांच ने घेरा, जिसपर जावेद ने पुलिस टीम पर अचानक गोली चला दी। हमले में पुलिसकर्मी बाल-बाल बच गए। पुलिस के जवाबी फायरिंग में जावेद के पैर में गोली लगी और वह पकड़ा गया। उसके कब्जे से .32 बोर की पिस्टल, एक बाइक समेत अन्य सामान बरामद हुआ। 

साढ़े चार लाख की पिस्टल, नवाबों जैसे शौख
पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि जावेद के कब्जे से मेड इन यूएसए की पिस्टल बरामद हुई है, जिसकी कीमत साढ़े चार लाख के करीब है। जावेद लूट की रकम से ब्रांडेड कपड़े और जूते पहनता था। लूट के पैसे से मड़ियांव के श्रीनगर कॉलोनी में मकान भी बनवा रखा है।

लूट के बाद मुंबई और दिल्ली में करता था मौजमस्ती
क्राइम ब्रांच के दारोगा अजय त्रिपाठी ने बताया कि जावेद लखनऊ व आसपास के जिलों में लूटपाट के बाद दिल्ली तो कभी मुंबई भाग जाता था। वहां मौजमस्ती करता था। पुलिस को उसकी सालभर से तलाश थी। जल्द ही लखनऊ आया था, मुखबिर की सूचना पर लूट करने से पहले ही पकड़ लिया गया। 

चार महीने में 11 एनकाउंटर
लखनऊ पुलिस कमिश्नरी सिस्टम को चार महीने ही हुए हैं और इस बीच यहां की पुलिस 11 एनकाउंटर कर लागतार अपराधियों पर नकेल कस रही है।

आलमबाग में सिगरेट कारोबारी की लूट व हत्या में आरोपी था
जावेद उर्फ पप्पू आलमबाग में सिगरेट कारोबारी की लूट व हत्या में आरोपी था।उसके ऊपर पचास हजार रूपये का ईनाम था। एक साल पहले गोसाईगंज में एक ज्वैलर्स के परिवार को बंधक बनाकर लाखों की लूट करने के साथ-साथ उसने महानगर में आटा व्यापारी से लूट, कृष्णा नगर में आरके ज्वैलर्स हत्या व लूट कांड के अलावा अन्य कई बड़ी वारदातों में शामिल था।

टीम को 50 हजार का इनाम, फरार दो बदमाशों की तलाश
बदमाश जावेद को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने 50 हजार का इनाम दिया है। आरोपित के दो साथी मौके से पुलिस से बचकर भाग निकल, जिनकी तलाश की जा रही है। 

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();