Breaking News

गाजीपुर जिला अस्पताल में होगी कोरोना की RTPCR जांच

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर. गाजीपुर जिले के लोगों को कोरोना की आरटीपीसीआर जांच सुविधा आसानी से मुहैया कराने के लिए जिला अस्पताल में ही लैब स्थापित की जा रही है। इमरजेंसी भवन के भूतल पर लैब निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। उधर, आरटीपीसीआर जांच (RTPCR Test) की सभी मशीनें आ गईं हैं। लैब तैयार होने के बाद उसे स्टाल कर दिया जाएगा। इस महीने के अंत तक लैब के शुरू होने करने की तैयारी है।

कोरोना का आरटीपीसीआर जांच के लिए जिले से सैंपल अब वाराणसी की जगह प्रयागराज भेजा जा रहा है। इससे रिपोर्ट आने में काफी देरी हो रही है। वहीं प्रयागराज सैंपल भेजने में स्वास्थ्य को अधिक खर्च भी करना पड़ रहा है। इस नई व्यवस्था से आम लोगों के साथ स्वास्थ्य विभाग को भी परेशानी हो रही है। बताया जा रहा है कि बजट के अभाव में बीएचयू स्थित लैब में कोरोना की आरटीपीसीआर जांच बंद कर दी गई है।

प्रतिदिन दो हजार लिए जा रहे सैंपल

गाजीपुर जिले में प्रतिदिन लगभग दो हजार कोरोना सैंपल लिए जा रहे हैं। इसमें से आठ सौ से एक हजार सैंपल की आरटीपीसीआर जांच होती है। शेष एंटीजेन जांच होती है। जिले से सैंपल एकत्र कर प्रतिदिन वाहन से उसे प्रयागराज भेजा जा रहा है। वहां आने जाने में 10 से 12 घंटे का समय लग रहा है। वहीं उसकी रिपोर्ट आने में भी दो से तीन दिन लग जा रहा है। बीएचयू में जांच बंद होने के बाद अब प्रयागराज में लोड बढ़ गया है।

बीएचयू में कोरोना का आरटीपीसीआर जांच बंद होने के बाद अब सैंपल प्रयागराज भेजा जा रहा है। इससे रिपोर्ट आने में देरी हो रही है। जिला अस्पताल में आरटीपीसीआर लैब स्थापित की जा रही है। इससे जांच आसान हो जाएगी।- डा. उमेश कुमार, एसीएमओ।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();