Breaking News

गाजीपुर के युवक ने तिलक से एक दिन पहले वाराणसी के गेस्ट हाउस में लगा ली फांसी

गाजीपुर न्यूज़ टीम, वाराणसी. गाजीपुर के एक युवक ने अपने तिलक से एक दिन पहले गुरुवार को वाराणसी के एक गेस्ट हाउस में फांसी लगाकर जान दे दी। युवक के पास से मिले सुसाइड नोट में लिखा था कि वह कभी शादी नहीं करना चाहता था। गेस्ट हाउस प्रबंधन की सूचना के आधार पर सिगरा थाने की पुलिस ने युवक के परिजनों को घटना की सूचना देकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।

गाजीपुर जिले के भांवरकोल थाना के मनिया मिर्जाबाद गांव निवासी कुलंजय राय (28) बुधवार को बनारस आया था। वह इंग्लिशिया लाइन स्थित एक गेस्ट हाउस में रुका था। गेस्ट हाउस के मैनेजर को उसने बताया था कि वह बनारस घूमने आया है। कल दिन में वह घूमा और रात में खाना खाकर सो गया था। आज काफी देर तक उसके कमरे का गेट नहीं खुला तो किसी ने ध्यान भी नहीं दिया।

दोपहर के समय होटल स्टाफ को शंका हुई तो उन्होंने दरवाजा खटखटाया लेकिन कोई आवाज नहीं हुई। गेस्ट हाउस के मैनेजर वीर प्रताप सिंह ने रोशनदान से झांक कर देखा तो कुलंजय फंदे के सहारे लटका हुआ था। इस पर मैनेजर ने सिगरा थाने की पुलिस को सूचना दी। पुलिस आई और दरवाजा तोड़ कर शव को फंदे से नीचे उतारी। कमरे की पड़ताल के दौरान कुलंजय का सुसाइड नोट मिला। उस पर लिखे हुए मोबाइल नंबर की मदद से पुलिस ने परिजनों को सूचना दी।

सुसाइड नोट में कुलंजय ने यह लिखा था

मैं बिना किसी दबाव के यह पत्र लिख रहा हूं। मुझ पर यह कार्य करने का किसी ने दबाव नही बनाया। मैं कभी शादी नही करना चाहता था। आप लोग मुझे इस बंधन से बांधना चाहते थे। आप लोगों से मैं क्षमा मांगता हूं। मैं वाराणसी के इस होटल के मालिक को पूरा पैसा दे चुका हूं। अपसे निवेदन है कि मेरे चले जाने के बाद 904955650 पर यह सूचना दे दें।

उधर, इस संबंध में सिगरा इंस्पेक्टर राजू सिंह ने बताया कि परिजनों को घटना की जानकारी दे दी गई है। उनके वाराणसी आने पर शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();