गाजीपुर: अतुल के बचाव में आगे आईं मायावती - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: अतुल के बचाव में आगे आईं मायावती

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर आमतौर पर देखा जाए तो बसपा मुखिया मायावती अपनी पार्टी के नेता क्‍या कार्यकर्ता तक पर किसी तरह के दाग बर्दाश्‍त नहीं करती हैं, लेकिन घोसी (मऊ) संसदीय सीट पर पार्टी उम्‍मीदवार अतुल राय के पक्ष में वह मजबूती से खड़ी हो गईं हैं। अतुल राय पर एक महिला यौन उत्‍पीड़न का कथित आरोप लगाई है। वह महिला सोशल मीडिया तक में अपने आरोप को वायरल की है। हालांकि यह मामला थाना पुलिस तक पहुंच गया है। जहां अतुल राय के खिलाफ वाराणसी के लंका थाने में मामला दर्ज हुआ है। वहीं अतुल राय ने बलिया के नरहीं थाने में उस महिला के खिलाफ ब्‍लैकमेल करने का केस दर्ज कराया है। इस प्रकरण को लेकर राजनीतिक हलके में आरोप-प्रत्‍यारोप के दौर भी शुरू हो गए हैं। 

विरोधी इसके जरिये अतुल राय को कठघरे में खड़ा कर उनके चुनाव अभियान को पलिता लगाने की जुगत में जुट गए हैं। जबकि बसपा-सपा गठबंधन के लोग भी करारा जवाब देने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं। शुक्रवार की सुबह बसपा मुखिया मायावती  अपने ट्विटर हैंडल पर अतुल राय का बचाव करते हुए इस सबके पीछे भाजपा की कारस्‍तानी बताईं। उन्‍होंने अपने पोस्‍ट में लिखा- बीएसपी महिलाओं का पूरा-पूरा आदर सम्‍मान करती है, जो जगजाहिर है, लेकिन दुखद है कि अब चुनाव के समय में भी बीजेपी सत्‍ता का दुरूपयोग करके बीएसपी को बदनाम करने पर तुली हुई है। घोसी में पार्टी प्रत्‍याशी के साथ भी ऐसा ही किया जा रहा है, जो बीजेपी का यह अति घिनौना चुनावी हथकंडा है। मायावती की यह पोस्‍ट खूब ट्रेंड हो रही है। 

वैसे मायावती से पहले इस मसले पर अतुल राय भी मय साक्ष्‍य मीडिया के सामने अपना पक्ष रख चुके हैं। उनकी मानी जाए तो वर्ष 2015 से वह युवती ऑफिस में आती थी और चुनाव लड़ने के नाम पर मदद लेती थी। अतुल राय का कहना है- मैं कभी ऑफिस के बाहर उससे नहीं मिला हूं। लोकसभा में प्रत्याशी बन गया तो उसे लगा कि वीडियो जारी करके ब्लैकमेल करेगी। युवती ने 24 अप्रैल को ही मेरे पास वीडियो भेजा और रुपये की मांग की। मना करने पर 28 अप्रैल को वीडियो पोस्ट कर दी। युवती के ब्लैकमेल करने का केस बलिया के नरहीं थाने में दर्ज कराया है। यह पूरी तरीके से भाजपा की साजिश है। 

मैं चुनाव आयोग से पूरे मामले की सीबीआई या न्यायिक जांच कराने की मांग करता हूं। मालूम हो कि अतुल राय मूलत: गाजीपुर के भांवरकोल ब्‍लाक स्थित वीरपुर गांव के रहने वाले हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में बसपा उन्‍हें गाजीपुर की जमा‍नियां सीट से लड़ाई थी। मोदी लहर के बावजूद वह भाजपा को कड़ी चुनौती दिए थे और अब बसपा के लोग मान रहे हैं कि अतुल राय घोसी के नए सांसद होंगे। भाजपा वह सीट गवांने जा रही है। यही वजह है कि अतुल राय को नाहक बदनाम करने के लिए गहरी साजिश रची गई है। अतुल राय पर आरोप लगाने वाली महिला बलिया जिले के सीमावर्ती इलाके की रहने वाली है।

No comments:

Post a Comment

योगदान करें!

सत्ता को आइना दिखाने वाली गाजीपुर समाचार पत्रकारिता जो राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. योगदान करें.

Donate Now
तत्काल दान करने के लिए, "Donate Now" बटन पर क्लिक करें।



Post Top Ad