गाजीपुर: मंडी टैक्स समाप्त करने के लिए पूर्व अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने उठाई आवाज - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: मंडी टैक्स समाप्त करने के लिए पूर्व अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने उठाई आवाज

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर नगर पालिका परिषद के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्‍ठ भाजपा नेता विनोद अग्रवाल ने उ0प्र0 में लागू मंडी टैक्स को समाप्त करने हेतु उ0प्र0 सरकार के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह जी से वार्ता करते हुए इसे अविलम्ब समाप्त करने की माँग की है। श्री अग्रवाल ने बताया कि पूरे देश में जीएसटी लागू होने के बाद उ0प्र0 में कृषि उत्पादन मंडी समिति का कोई औचित्य नहीं रह गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के ‘‘नया भारत’’ के सपने को साकार करने की दृष्टि से एक राष्‍ट्र, एक कर, एक बाजार के रूप में जीएसटी लागू हुई थी, जिससे वर्तमान परिस्थितियों में उद्योग एवं व्यवसायिक क्षेत्र में काफी सुधार हुआ है और सम्भावनायें भी काफी बढ़ी हैं। 

जहाँ एक ओर जीएसटी से पूरे देश में राजस्व में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है वहीं दूसरी तरफ देश के विकास के लिए भी सरकार लगातार परियोजनाओं को पूरा करने एवं नयी परियोजनाओं को लागू करने के प्रयास में लगी हुई है। उद्योग जगत एवं व्यवसायिक जगत की तमाम परेषानियों का निराकरण करने हेतु व्यापारी कल्याण बोर्ड सहित तमाम दिशाओं में सरकार प्रयत्नशील है। जीएसटी लगने के उपरान्त सरकार के मंशा के अनुरूप अन्य कोई टैक्स न लगने की बात कही गयी थी, परन्तु उ0प्र0 में मंडी टैक्स न समाप्त होने के कारण एक तरफ जहाँ प्रदेश के राजस्व की हानि हो रही है एवं बगल से सटे बिहार राज्य से (जहाँ पर मंडी शुल्क नहीं है) माल का आवागमन हो रहा है वहीं दूसरी तरफ विभागीय नौकरशाही के वजह से व्यापारी काफी परेशान हैं। 

वर्तमान में कृषि उत्पादन मंडी समिति उ0प्र0 के टैक्स के दायरे में दाल, दलहन, गल्ला एवं देशी घी आदि वस्तुयें आती हैं जिस पर 2.5 प्रतिशत मंडी टैक्स के रूप में जमा करना पड़ता है। उ0प्र0 में मंडी टैक्स लगने से जहाँ वस्तुओं के रेट में वृद्धि हो जाती है वहीं दूसरी तरफ व्यापारियों की लिखा-पढ़ी भी अनावश्‍यक रूप से बढ़ जाती है। श्री अग्रवाल ने माननीय चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री से इस बात को याद दिलाते हुए मंत्रिमंडल में इस विशय को गंभीरतापूर्वक उठाने एवं इसके समाधान हेतु मंत्री जी से आग्रह एवं निवेदन किया है। इसके पूर्व गाजीपुर में पधारे प्रदेश सरकार के माननीय कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही जी से भी मंडी शुल्क समाप्त करने के लिए निवेदन किया गया है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad