गाजीपुर: स्वामी भवानी नन्दन ने अपने गुरू बालकृष्ण यति के छठवीं पुण्यतिथि पर पूजा व दान कर दी श्रद्धांजलि - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, गाजीपुर अपराध समाचार

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: स्वामी भवानी नन्दन ने अपने गुरू बालकृष्ण यति के छठवीं पुण्यतिथि पर पूजा व दान कर दी श्रद्धांजलि

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर जनपद ही नहीं समूचे पूर्वांचल में तीर्थ स्थल का रूप ले चुके सिद्धपीठ हथियाराम के 25वें पीठाधीश्वर महामण्डलेश्वर स्वामी बालकृष्ण यति जी महाराज के छठवीं पुण्यतिथि पर सोमवार को मठ परिसर में विविध धार्मिक अनुष्ठान  आयोजित किया गया। उनकी पुण्य स्मृति में वर्तमान पीठाधीश्वर स्वामी भवानीनंदन यति ने गौदान, रुद्राभिषेक और गुरु पूजन किया। साथ ही कन्या पीजी कालेज परिवार ने अपने संस्थापक को भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। अंत में श्रद्धालुओं ने भंडारे से महाप्रसाद ग्रहण किया। 

श्रावण कृष्ण पक्ष पंचमी तिथि को स्वामी बालकृष्ण का चातुर्मास महायज्ञ सम्पादित करते समय तिरोधान हुआ था। अपने गुरु महाराज की पुण्य स्मृति में पीठाधीश्वर महामण्डलेश्वर स्वामी भवानीनन्दन यति ने सिद्धेश्वर महादेव मंदिर में भगवान शिव का रुद्राभिषेक किया। वाराणसी के ब्राह्मणों द्वारा किये जा रहे वैदिक मंत्रोच्चार के बीच स्वामी भवानीनन्दन यति ने शिवोपासना के उपरांत साविधि गौदान किया। सिद्धेश्वर महादेव मंदिर परिसर स्थित गुरु महाराज की समाधि स्थल व उनके चित्र पर विधि पूर्वक पूजन-अर्चन किया। 

स्वामी भवानीनन्दन यति ने गुरु की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि साधारण मानव भी सद्गुरु की कृपा से महापुरुष बनकर उन्नति के शिखर को प्राप्त कर सकता है। कहा गया है कि गुरु का स्थान भगवान से भी ऊंचा है। ऐसे गुरु की कृपा से सब कुछ सम्भव है। स्वामी बालकृष्ण द्वारा स्थापित कन्या पीजी कालेज परिसर में स्थापित ब्रह्मलीन महंत की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किया गया। 

धूप-दीप और नैवेद्य-पुष्प के जरिये उन्हें श्रद्धांजलि दी। महाविद्यालय की छात्राओं और शिक्षिकाओं ने भावपूर्ण श्रद्धा सुमन अर्पित किया। अंत में भंडारा का आयोजन हुआ, जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। इस दौरान डॉ. रत्नाकर त्रिपाठी, पुजारी श्रवण तिवारी, सर्वेश पाण्डेय, कर्नल आरपी सिंह, मंजू सिंह, लौटू प्रजापति, गुलाब प्रधान, अमिता दुबे, आरती सिंह, चंद्रशेखर सिंह, लौटू प्रजापति, रिंकू सिंह, सुनीता, रीमा सिंह, राखी मिश्रा, अमित आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad