गाजीपुर: महिलाओं से माफी मांगें आजम खानः मायावती - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: महिलाओं से माफी मांगें आजम खानः मायावती

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर गठबंधन टूटने के बाद सपा और बसपा एक दूसरे की पार्टी अथवा नेताओं के खिलाफ कुछ भी बोलने से परहेज करते रहे हैं, लेकिन लगता है अब ऐसा नहीं चलेगा। कम से कम मायावती की ओर से तो ऐसा ही संकेत मिल रहा है। गुरुवार को लोकसभा में भाजपा सांसद रमा देवी पर सपा सांसद आजम खान की अभद्र टिप्पणी को लेकर बसपा मुखिया मायावती बेहद क्षुब्ध हैं। 

शुक्रवार को ट्विट कर उन्होंने यहां तक कहा कि लोकसभा में अपने अशोभनीय कथन के लिए आजम खान देश की महिलाओं से माफी मांगे। मायावती ने यह बात तब कही है, जब टीवी पर पूरे देश ने देखा कि लोकसभा में आजम खान के पीछे पड़े भाजपा सांसदों को देख-सुन कर सपा मुखिया अखिलेश यादव किस तरह आजम खां के समर्थन में खड़े हो गए थे। बल्कि वह तो यहां तक कहे कि आजम खान ने ऐसा कुछ नहीं कहा, जिससे कि महिला सांसद रमा देवी का अपमान हुआ हो। अखिलेश ने उल्टे भाजपा सांसदों पर ही बदजुबानी की तोहमत लगाई।

लोकसभा में तीन तलाक पर चर्चा हो रही थी। तब स्पीकर ओम बिरला की नामौजूदगी में पीठासीन थीं भाजपा की वरिष्ठ सांसद रमा देवी। चर्चा में आजम खान शायराना अंदाज में रमा देवी की ओर मुखातिब होकर बोलाना शुरू किए और वहीं से बात बिगड़ती चली गई थी। बसपा मुखिया मायावती ने अपने ट्विट में कहा है-‘यूपी से सपा सांसद श्री आजम खान द्वारा कल लोकसभा में पीठासीन महिला के खिलाफ जिस प्रकार की अशोभनीय भाषाका इस्तेमाल किया गया,वह महिला गरिमा व सम्मान को ठेस पहुंचाने वाला है तथा अति निंदनीय है। 

इसके लिए उन्हें संसद में ही नहीं बल्कि समस्त महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए’। मालूम हो कि लोकसभा चुनाव के वक्त सपा और बसपा का गठबंधन था और मायावती प्रचार अभियान में आजम खान के निर्वाचन क्षेत्र रामपुर पहुंची थीं। मायावती के इस ट्विट पर गाजीपुर के सपाइयों में तीखी प्रतिक्रिया हो रही है। सोशल मीडिया पर मायावती का वह ट्विट खूब ट्रेंड हो रहा है, लेकिन कुछ यूजर्स ने मायावती को सवालों में घेरा है। उनका कहना है कि जब आजम खान लोकसभा चुनाव में अपने खिलाफ मुकाबिल भाजपा की जयप्रदा पर अशोभनीय टिप्पणियां कर रहे थे, तब मायावती क्यों चुप थीं।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad