Breaking News

गाजीपुर: सावन का अंतिम सोमवार आज , जल भरने घाटों पर उमड़े कांवरिए

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर सावन के अंतिम सोमवार को देवाधिदेव का जलाभिषेक करने के लिए कांवरियों की भीड़ रविवार को नगर में उमड़ पड़ी। शहर सहित ग्रामीण क्षेत्रों से काफी संख्या में श्रद्धालु ददरीघाट सहित अन्य गंगा घाटों पर स्नान के बाद कांवर में जल भरकर महाहर धाम के लिए रवाना हो लिए। उधर जिलाधिकारी के. बालाजी एवं पुलिस अधीक्षक डा. अरविद कुमार चतुर्वेदी ने लिया गंगा घाटों के साथ अन्य सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

दोपहर बाद से नगर में विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों से कांवरियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया था। जैसे-जैसे दिन ढलता गया वैसे-वैसे कांवरियों की संख्या में वृद्धि भी होती गई। काफी संख्या में महिला-पुरुष श्रद्धालु विभिन्न साधनों से शहर पहुंचे। इसके बाद खासकर ददरीघाट पर स्नान करने के लिए पहुंचे। गंगा स्नान करने के बाद कांवर में जल लेकर पदयात्रा करते हुए जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर मरदह स्थित महाहर धाम के लिए रवाना हुए। समूह में निकले भक्त बोल-बम का जयकारा लगाते चल रहे थे। मार्गों पर आने-जाने वाले लोग भी भक्तों के सुर में सुर मिलाते हुए बोलबम बोल रहे थे।

जलाभिषेक को उमड़ेंगे श्रद्धालु
मुहम्मदाबाद : सावन के अंतिम सप्ताह होने से शिवमंदिरों में दर्शन-पूजन को लेकर लोगों की काफी भीड़ हो रही है। नगर से सटे महादेवा स्थित सोमेश्वर महादेव मंदिर को झालर बत्तियों से सजाया गया है। मंदिर में गंगा स्नान कर सुबह जलाभिषेक व पूजन करने वाले तो पहुंच ही रहे हैं, सबसे ज्यादा भीड़ अरघा भरने वालों की हो रही है। इस समय सुबह नौ बजे से लेकर देर शाम छह बजे तक दूध, चीनी के शर्बत, अन्न आदि से अरघा भरने वालों का कतार लगी रह रही है। बीच -बीच में समय लेकर लोग रूद्राभिषेक करा रहे हैं। रात 7.30 बजे आरती समाप्त होने के बाद भी लोग रूद्राभिषेक करा रहे हैं। सावन के अंतिम सोमवार को देखते हुए सोमेश्वर महादेव मंदिर को झालर बत्तियों से सजाया गया है। श्रावणी पूजा को लेकर नगर स्थित शाहनिदा काली मंदिर, यूसुफपुर महाकाली मंदिर पर महिला श्रद्धालुओं की काफी भीड़ हो रही है। वहीं अमवा सिंह सती स्थान पर दूसरे जनपदों के श्रद्धालु पहुंचकर दर्शन पूजन कर रहे हैं।

डीएम व एसपी ने लिया व्यवस्था का जायजा
सावन मास के अंतिम सोमवार को होने वाली भीड़ को देखते हुए जिलाधिकारी के. बालाजी एवं पुलिस अधीक्षक डा. अरविद कुमार चतुर्वेदी ने ददरीघाट, चीतनाथ घाट एवं महाहरधाम मंदिर का स्थलीय निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही संबंधित अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में घाटों पर बैरिकेडिग, नाव, गोताखोर, लाइटिग, साफ-सफाई तथा कांवरियों को सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध कराने का सख्त निर्देश दिया। चेतावनी दी कि कांवरियों की सुरक्षा में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। 

उन्होंने प्रत्येक घाट पर गोताखोर के साथ सुरक्षा उपकरण जैसे कि लाइफ रिग, लाइफ जैकेट, रस्सी की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने महाहर धाम में कांवरियों के प्रवेश व निकास द्वार की जानकारी ली, उन्होंने परिसर में साफ-सफाई रखने हेतु जिला पंचायत राज अधिकारी को कहा। साथ ही परिसर में वाहनों का प्रवेश वर्जित रखने तथा बिजली के लटकते हुए तार को तत्काल सही कराने, मंदिर परिसर के आसपास लगी दुकानों जिसमें गैस, स्टोव, चूल्हों का उपयोग हो रहा है। उसे परिसर से कुछ दूरी पर प्रयोग कराने का निर्देश दिया। इस मौके पर क्षेत्राधिकारी सदर, अपर उपजिलाधिकारी सूरज यादव, तहसीलदार सदर, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद आदि थे।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();