गाजीपुर: बिजली थाने के लिए इंस्पेक्टर तैनात, फिलहाल रौजा उपकेंद्र कैंपस में संचालित होगा थाना - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, 2 सितंबर 2019

गाजीपुर: बिजली थाने के लिए इंस्पेक्टर तैनात, फिलहाल रौजा उपकेंद्र कैंपस में संचालित होगा थाना

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बिजली चोरों के लिए यह खबर सदमे में डालने वाली है। गाजीपुर में भी बिजली थाना स्थापित होगा। इसकी तैयारी को अंतिम रूप दिया जा रहा है। यहां तक कि थाना इंचार्ज की तैनाती हो गई है। इंचार्ज इंस्पेक्टर ईश्वर चंद्र प्रधान को बनाया गया है। इसके लिए उनका तबादला सिद्धार्थनगर सिविल पुलिस से गाजीपुर किया गया है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि गाजीपुर का बिजली थाना का मुख्यालय फिलहाल रौजा उपकेंद्र में होगा। यह अस्थाई व्यवस्था है। इंस्पेक्टर के साथ ही तीन हेड कांस्टेबल भी तैनात कर दिए गए हैं। जल्द ही यह बिजली थाना अपना काम शुरू कर देगा।

सूत्रों ने बताया कि बिजली चोरी अथवा बिजली से संबंधित मामले बिजली थाने में ही दर्ज होंगे। वक्त के साथ जरूरत के हिसाब से इस थाने में एसआई, कांस्टेबल, डेटा ऑपरेटर, मुंशी की तैनाती होगी। जाहिर है कि बिजली थाना खुलने से बिजली चोरों की अब खैर नहीं रहेगी।

मालूम हो कि प्रदेश में 2017 में योगी सरकार के गठन की शुरुआत में ही ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने प्रदेश के सभी जिलों में बिजली थाने स्थापित करने की घोषणा की थी। उस घोषणा पर अब काम शुरू हो गया है।

विभागीय सूत्रों ने बताया कि दरअसल विभाग को बिजली चोरी पर प्रभावी तरीके से अंकुश लगाने के लिए सुरक्षाबल की जरूरत पड़ती है और इसकी पूर्ति अब तक सिविल पुलिस के जरिये होती रही है। सिविल पुलिस अन्य मामलों में व्यस्ता के कारण वक्त पर उपलब्ध नहीं हो पाती थी। बिजली चोरी के दर्ज मामलों के निस्तारण में भी नाहक विलंब होता रहा है, लेकिन अब जबकि विभाग का खुद का थाना और पुलिस बल होगा। तो बिजली चोरों के खिलाफ फौरी कार्रवाई होगी। दर्ज मामलों का शीघ्र निस्तारण होगा। बिजली थाना की जवावदेयी भी बिजली विभाग के लिए होगी। हालांकि बिजली थाना खुलने से उपभोक्ताओं को भी सहूलियत मिलेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad