गाजीपुर: शिवालय में तोड़े अरघा, ग्रामीणों ने तीन युवकों को मारपीट कर पुलिस को सौंपा, भाई संग ग्राम प्रधान भी नामजद - Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | गाजीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: शिवालय में तोड़े अरघा, ग्रामीणों ने तीन युवकों को मारपीट कर पुलिस को सौंपा, भाई संग ग्राम प्रधान भी नामजद

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर भांवरकोल खऱडीहा गांव में शरारती तत्वों ने शिवालय में तोड़फोड़ कर सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की कोशिश की। मय फोर्स पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसी तरह स्थिति शांत कराए। एहतियात के तौर पर गांव में पीएसी की तैनाती कर दी गई है। ग्रामीणों के हाथों पकड़े गए शरारती तत्वों में चार को पुलिस अपनी गिरफ्त में ले ली है।

वाकया बुधवार की सुबह का है। गांव में स्थित इंटर कॉलेज कैंपस में शिवालय है। शरारती तत्वों ने शिवालय का अरघा तोड़ दिया और शिव लिंग को भी क्षतिग्रस्त करने की कोशिश की। उसी बीच रोज सुबह दौड़ लगाने वाले युवक विद्यालय कैंपस में पहुंचे तो वहां मौजूद गांव के ही रहने वाले शरारती तत्व भागने लगे। तब उन युवकों ने दौड़ाकर शरारती तत्वों में तीन रियाज पुत्र जमालुद्दीन, अमित उर्फ रोशन पुत्र लाला यादव और मनोज पुत्र जोखु गोंड को दबोच लिया। उनकी ठीक से ठुकाई भी किए।
सूचना मिलने पर एसएचओ भांवरकोल शैलेश यादव मय फोर्स पहुंचे, लेकिन ग्रामीणों ने पकड़े गए युवकों को सौंपने से मना कर दिया। वह मौके पर डीएम तथा एसपी को बुलाने की मांग किए। उनका कहना था कि वह लोग पकड़े गए युवकों को डीएम, एसपी को ही सौंपेंगे। उसी बीच ग्रामीण पकड़े गए युवकों के भागे साथियों में सरोज पुत्र मनऊवर को भी ढूंढ कर पकड़ लिए। तब अतिरिक्त पुलिस बल के साथ एसडीएम मुहम्मदाबाद राजेश गुप्त तथा सीओ मुहम्मदाबाद चंद्रपाल शर्मा मौके पर पहुंचे, लेकिन ग्रामीणों ने उनकी भी नहीं सुनी। 

आखिर में एडीएम राजेश कुमार तथा एएसपी ग्रामीण चंद्रप्रकाश शुक्ल पहुंचे। ग्रामीणों को उन्हें संयुक्त हस्ताक्षर से तहरीद दी। उसमें पकड़े गए युवकों के अलावा कुछ अज्ञात सहित ग्राम प्रधान अफ्तखार अंसारी तथा उनके भाई फैयाज अंसारी तथा राजकुमार पुत्र जोखु पासवान को नामजद किए। एडीएम ने भरोसा दिया कि नामजद और अज्ञात अभियुक्तों को चिन्हित कर एक हफ्ते के अंदर गिरफ्तार किया जाएगा। सभी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उसके बाद ग्रामीणों ने पकड़े गए युवकों को पुलिस के हवाले किया। तहरीर में यह भी आरोप लगाया गया कि घटना के वक्त अभियुक्तगण मजहबी नारे के साथ ही पाकिस्तान जिंदाबाद के भी नारे लगा रहे थे। तहरीर पर विपिन राय, शैलेंद्र राय, अमलेश राय आदि के हस्ताक्षर थे। ग्रामीणों का यह भी कहना था कि घटना में शामिल लोग पहले गांव में ही रात में दारु-मुर्गा की पार्टी किए। उसके बाद वह सब गोलबंद होकर मौके पर पहुंचे थे। घटना स्थल पर दारु की खाली बोतल भी मिली। एडीएम राजेश कुमार ने बताया कि खरडीहा गांव की स्थिति सामान्य है। पुलिस ग्राम प्रधान सहित फरार अभियुक्तों की तलाश शुरू कर दी है।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad