Breaking News

गाजीपुर: वर्षों से स्वास्थ्य विभाग की उपेक्षा का दंश झेल रहा कल्याण उपकेंद्र

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर बहादुरगंज स्वास्थ्य विभाग की उपेक्षा का वर्षों से दंश झेल रहा स्थानीय मातृ-शिशु कल्याण उपकेंद्र व जर्जर आवास अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है। यहां तैनात स्वास्थ्य कर्मी हमेशा लापता रहते हैं। ऐसी स्थिति में एक दर्जन गांव के लोगों को चिकित्सकीय सुविधा से वंचित होना पड़ रहा है। सबसे अधिक दिक्कत का सामना गर्भवती महिलाओं को उठानी पड़ती है। गांव के देवनाथ राम, हरिशंकर राय, विजय मिश्रा, श्रीकिशुन खरवार, पवन राय, विजेंद्र पाल, मिथिलेश तिवारी, विनोद राय, उषा राय व राजमती देवी ने बताया कि वर्षों से अस्पताल जर्जर अवस्था में पड़ा है। 

इसकी चहारदीवारी गिरकर ध्वस्त हो चुकी है। वहीं परिसर में उगे जंगली घास जानवरों का ठिकाना बन चुके हैं। सबसे बड़ी बात तो यह है कि सबकुछ जानते हुए भी स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी ठोस कदम उठाने के बावजूद चुप्पी साधे हुए हैं। इसके चलते गांव के लोगों को महंगे इलाज के लिए नीम-हकीम व निजी अस्पतालों की शरण लेनी पड़ती है। एएनएम सावित्री देवी ने बताया कि सुपरवाइजर कमली यादव की ड्यूटी हैं लेकिन अस्पताल का भवन जर्जर होने के चलते स्वास्थ्य कर्मचारी नहीं आ रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();