Breaking News

गाजीपुर: 35 क्रय केंद्रों पर नहीं शुरू हो सका धान खरीद

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर धान खरीद शुरू हुए एक महीना बीतने को है लेकिन अभी तक आधे से अधिक सरकारी धान क्रय केंद्रों की बोहनी तक नहीं हो पाई है। हालात इतने खराब हैं कि जिले में बनाए गए 90 क्रय केंद्रों में से 35 तो अभी शुरू भी नहीं हो पाए हैं। वह कागजी मकड़जाल में उलझे हुए हैं। अगर खरीद प्रतिशत की बात करें तो पूरे जिले में कुल मिलाकर अभी तक लक्ष्य के सापेक्ष 1.62 फीसद ही धान खरीदा जा सका है। हालांकि विभाग स्थिति में सुधार लाने के लिए लगा हुआ है।

किसानों का धान समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिए जिले में 90 क्रय केंद्र खोले गए हैं। इसमें से 55 केंद्र ही चालू हो सके हैं। इसमें भी बहुत से केंद्र ऐसे हैं जहां बोरा व अन्य आवश्यक सामग्री नहीं पहुंच सकी है। कुछ ऐसे केंद्र भी हैं जहां किसान ही अभी नहीं पहुंच रहे हैं। विशेषकर जमानियां क्षेत्र के खेतों में अभी नमी है। वहां धान बहुत कम आ रहे हैं।

जंगीपुर केंद्र की बेहतर स्थिति
जंगीपुर : खाद्य विपणन विभाग के जंगीपुर सहित कुछ अन्य केंद्रों पर तेजी से खरीद का काम चल रहा है। यहां खरीद की स्थिति संतोषजनक है। जंगीपुर में 40 हजार क्विटल लक्ष्य के सापेक्ष 15 हजार क्विटल खरीद हो चुकी है जो लगभग 35 फीसद है। पूरे जिले की बात करें तो इस वर्ष 1.87 लाख 400 एमटी धान खरीद का लक्ष्य है, इसमें अभी तक केवल 3038 एमटी ही खरीदा जा सका है।

विपणन के केंद्र पर 2400 क्विटल धान की खरीद
मुहम्मदाबाद : तहसील मुख्यालय पर शासन की ओर से तिवारीपुर स्थित विपणन कार्यालय पर बनाए धान क्रय केंद्र पर अब तक करीब 2400 क्विटल धान की खरीद हो चुकी है। केंद्र पर 85 हजार बोरा, कांटा व नमी मापक यंत्र उपलब्ध है। वहीं यूसुफपुर सहकारी क्रय विक्रय समिति लिमिटेड क्रय केंद्र पर अभी धान की खरीद नहीं हो सकी है। केंद्र पर कांटा व नमी मापक यंत्र उपलब्ध है लेकिन अभी बोरा उपलब्ध नहीं कराया जा सका है। केंद्र प्रभारी शिवलाल ने बताया कि अभी किसान धान की कटाई में लगे हैं। धान कटते ही वह केंद्र तक आना शुरू कर देंगे। 

जंगीपुर : जंगीपुर मंडी समिति के विपणन शाखा में धान की खरीदारी बड़े जोर-शोर से चल रहा है। 40 हजार क्विटल का लक्ष्य दिया गया है जिसमें 15 हजार क्विटल खरीदारी हो गई है। यहां खरीद का काम तेजी से चल रहा है। भांवरकोल क्षेत्र के साधन सहकारी समिति सुखडेहरा स्थित धान क्रय केंद्र पर अब तक कुछ भी खरीद नहीं हो सकी है। इस क्रय केंद्र की नमी मापक यंत्र भी खराब है। जबकि साधन सहकारी समिति मुड़ेरा बुजुर्ग स्थित धान क्रय केंद्र पर अब तक दो किसानों से मात्र साढ़े 31 क्विटल धान की खरीद की गई है। गहमर खरीद केंद्र पर धान की करा के लिए 112 किसानों को टोकन दिया गया है लेकिन किसान अभी तक सहकारी क्रय केंद्र पर अपनी उपज को लेकर नहीं पहुंच रहे हैं।

1815 रुपये प्रति क्विटल हो रही खरीद
सरकारी धान क्रय केंद्र पर किसानों का सामान्य धान 1815 रुपये प्रति क्विटल की दर से लिया जा रहा है, जबकि ग्रेड-ए का धान 1835 रुपये प्रति क्विटल लिया जा रहा है। इसके अलावा किसानों को धान की उतराई व छनाई के लिए अलग से 20 रुपये प्रति क्विटल भुगतान किया जा रहा है। खरीद एक नवंबर से शुरू है जो 29 फरवरी तक चलेगी।

कुछ केंद्र अभी शुरू नहीं हो सके हैं। उन्हें शीघ्र चालू करवा दिया जाएगा। 55 केंद्रों पर धान खरीद का काम चल रहा है। अधिकतर किसानों का धान अभी खेत या खलिहान में है। एक-दो सप्ताह बाद खरीद में काफी तेजी आ जाएगी।- रतन कुमार शुक्ल, जिला खाद्य विपणन अधिकारी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();