गाजीपुर: जल्दी से उगा हो सुरुज देव भइल अरघे क बेर.. - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: जल्दी से उगा हो सुरुज देव भइल अरघे क बेर..

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर  लोक आस्था का पर्व डाला छठ रविवार की सुबह उदयमान सूर्य के अ‌र्घ्य के साथ ही संपन्न हो गया। चार दिवसीय इस अनुष्ठान के अंतिम दिन अ‌र्घ्य के बाद व्रतधारी महिला व पुरुषों ने अन्न जल ग्रहण कर पारन करते हुए 36 घंटे का निर्जला उपवास समाप्त किया। अंतिम दिन बड़ी संख्या में व्रतधारी गंगा सहित विभिन्न नदियों के तट और जलाशयों के किनारे पहुंचे और उदयमान सूर्य को अ‌र्घ्य देकर भगवान भास्कर की पूजा-अर्चना की। छठ को लेकर चार दिनों तक जिला भक्तिमय रहा। गांव-मोहल्लों से लेकर गंगा तटों तक पूरे इलाके में छठ पूजा के पारंपरिक गीत गूंजते रहे। पूरे दिन प्रसाद वितरण का दौर चलता रहा।

नगर के सिकंदरपुर गंगा घाट पर सबसे अधिक भीड़ रही, शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्र के भी श्रद्धालुओं ने यहां पूजन किया। आज सुबह 6.37 पर सूर्य देव का दर्शन हुए उसके बाद ठीक 6.40 पर बादलों के बीच छिप गये। श्रद्धा से सराबोर व्रती महिलाओं ने धैर्य बनाते सूर्य देव की प्रतीक्षा की। इस घाट पर दो अस्थायी पुलों के निर्माण से लोगो को आवागमन में काफी सहूलियत हुई। यहां साज-सज्जा, प्रकाश और अ‌र्घ्य के लिए मुफ्त दूध आदि की व्यवस्था स्थानीय नागरिकों द्वारा किया गया था। जिसमें व्यवस्थापक प्रमुख रूप से गर्वजीत सिंह, हर्षजीत सिंह, अजय कुशवाहा, कार्तिक गुप्ता, लाले सिंह, फतेह बहादुर सिंह आदि रहे। महादेवा पोखरा पर श्रद्धालुओं की जबर्दस्त भीड़

मुहम्मदाबाद : नगर सहित ग्रामीण इलाके के सभी रास्ते भोर में महिलाओं द्वारा छठ घाटों पर जाते समय गाये जा रहे गीत 'जल्दी से उग हो सूरूज देव भइल अरघे क बेर' से गूंजता रहा। दूसरे दिन के पूजन व अ‌र्घ्य के लिए महिलाएं व परिवार के सदस्य भोर में करीब चार बजे छठ घाटों की ओर प्रस्थान कर गये। छठ घाटों तक जाने के लिए पूरे रास्ते व घाटों तक प्रकाश की व्यवस्था की गई थी। छठ पूजन के लिए नगर से सटे महादेवा पोखरा पर श्रद्धालुओं की जबर्दस्त भीड़ रही। पोखरा के अंदर से लेकर बाहर कई लाइन में व्रती महिलाएं वेदी के समक्ष भगवान सूर्य की भक्ति में लीन दिखी। नगर के यूसुफपुर बाजार व हनुमान गंज पोखरा तक जाने के लिए भी प्रकाश की व्यवस्था के साथ साथ घाट पर भी अच्छी व्यवस्था रही। बच्छलपुर गंगा तट पर भी काफी संख्या में व्रतियों ने पूजन किया। गौसपुर, सुल्तानपुर, हरिहरपुर, चकतरफिया, हरिबल्लमपुर, तिवारीपुर, सेमरा, फिरोजपुर आदि गांवों के सामने गंगा घाट पर छठ पूजा की धूम रही। सुबह भगवान भाष्कर के उदय होते ही हर हर महादेव के नारों के बीच लोगों ने अ‌र्घ्य देने का कार्य शुरू किया। व्रत पूरा होने के बाद व्रती महिलाओं ने छठ घाटों से ही प्रसाद का वितरण शुरू कर दिया। वहीं लोग अपने परिचितों के यहां प्रसाद पहुंचाने में लगे रहे। छठ पूजन के लिए महादेवा पोखरा पर विशेष व्यवस्था करने में पंडित अभिषेक तिवारी का सक्रिय सहयोग रहा।

छठ घाटों पर नजर आया दीपावली का नजारा
मुहम्मदाबाद : छठ घाटों पर आतिशबाजी की धूम रही। छठ घाट पर पहुंचे बड़े लोग जहां पूजा कार्य में व्यस्त रहें वहीं बच्चे एकत्रित होकर आतिशबाजी कर आनंद लेते रहे। इससे घाटों पर छठ और दीपावली दोनों की अनुभूति हो रही थी।

युवाओं में सेल्फी लेने की लगी रही होड़
मुहम्मदाबाद : छठ घाटों पर मोबाइल से सेल्फी लेने की होड़ लगी हुई थी। बच्चे हो या बड़े, लड़के हो या लड़कियां। सभी अपने अपने ग्रुप के साथ घाटों के विहंगम दृश्य को अपने मोबाइल कैमरों में कैद करने लगे हुए थे। वे अपनी मेमोरी में अपने फोटो के साथ छठ पर्व की यादों को समेटने में लगे हुए थे।

सैदपुर : नगर स्थित बूढ़ेनाथ महादेव घाट, पक्का घाट, संगत घाट, महावीर घाट, रामघाट, रंगमहल घाट, कोल्हुआ घाट पर व्रती महिलाओं व उनके परिजनों की भीड़ रही। सूर्य उपासना के बाद उगते सूर्य को दूसरे दिन व्रतियों ने अ‌र्घ्य दिया। गावों में स्थित पोखरों व तालाबों पर भी छठ पूजन हुआ। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए एसडीएम डा. वेदप्रकाश मिश्र, सीओ आरबी सिंह, कोतवाल श्यामजी यादव व अधिशासी अधिकारी संतोष मिश्र हमराहियों के व कर्मचारियों के साथ लगे रहे। सादात : ढोल-ताशे व बैंड बाजे के साथ बहुत से लोगों ने पोखरों, नदी, तालाबों के किनारों पर अपने परिवार व नाते रिश्तेदारों के साथ पहुंचकर इस पर्व में भाग लिया। नगर के थाना पोखरा, भोलासाव पोखरा, अमरहिया कुटी पोखरा, देवकली पंप नहर, उदन्ती नदी आदि सहित भक्ति धाम मंदिर गौरा गांव में काफी भीड़ रही। सभी जगहों पर पुलिस की व्यवस्था रही। नगर के सभी स्थानों पर थानाध्यक्ष रविद्रभूषण मौर्य व ईओ संदीप सिंह भृमण करते रहे। बहरियाबाद बाजार से दक्षिण स्थित उदंती नदी व उत्तर स्थित लठवा पोखरा सहित क्षेत्र के रायपुर, मिर्जापुर, हुरमुजपुर, पलिवार आदि क्षेत्रों में छठब्रती महिलाओं ने नदी व तालाबों से रविवार को उगते सूर्य को अ‌र्घ्य देकर विधि-विधान से पूजन-अर्चन का कार्य सम्पन्न किया।

सिधौना : क्षेत्र के पटना, मठिया, औड़िहार, कन्हईपुर, करमपुर आदि गांवों में बड़े धूमधाम से छठ पर्व मनाया गया। क्षेत्र के दिनौरा, भभौरा, कन्हईपुर, करमपुर आदि गांवो में पोखरा, तालाब आदि में उगते सूर्य को अ‌र्घ्य दिया गया। क्षेत्र औड़िहार, पटना, मठिया के गंगा किनारे छठ पर्व का भव्य दृश्य देखने को मिला। वही औड़िहार बाराह घाट को दुल्हन की तरह सजाया गया। सुव्यवस्था को लेकर तीन भव्य द्वार बनाया गया था। मुख्य मार्ग से बाराह घाट जाने वाले रास्ते को बड़े वाहनों के लिए बन्द कर दिया गया था। बड़े वाहन जौहरगंज से होकर पटना को जाने वाले रास्ते का प्रयोग कर रहे थे। पूरे घाट पर लाइट, झालर आदि का व्यवस्था किया गया था। औड़िहार ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राजन सिंह व सामाजिक कार्यकर्ता भोनू सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं ने घाट पर व्यवस्था को देखा। तथा पुलिस प्रशासन सुबह से ही घाट से लेकर हाईवे मुस्तैद थे। प्रतिनिधि राजन सिंह ने बताया कि प्रतिवर्ष चाय का वितरण किया जाता लेकिन इस बार भीड़ ज्यादा होने से ज्यादा चाय बंटवाना पड़ा। धर्मेंद्र, गुड्डू, मनोहर, राहुल, मल्लू, राजाराम, मदन, ददन, छेदी आदि का सहयोग सराहनीय रहा।

चेन चुराते हुए पकड़ी गयी महिला
औड़िहार स्थित बराह रूप घाट पर छठ पर्व के दूसरे दिन औड़िहार घाट पर सोने का चेन चुराते हुए एक महिला पकड़ी गयी। औड़िहार निवासी घुरहू सिंह की पत्नी उषा सिंह पूजा करने में व्यस्त थी। तभी पीछे से एक महिला चेन को काट रही थी। बगल में खड़े युवक ने देख लिया तथा उसे तुरंत पकड़ लिया गया। तथा घाट से ही पुलिस को सौंप दिया गया।

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad