गाजीपुर: भाजपा सरकार के कथनी व करनी में अंतर: निर्भया के नाम पर बनें अस्पताल में जाने के लिए अभी नही बना सम्पर्क मार्ग - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Latest Ghazipur News in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, खेल समाचार, राजनीति न्यूज़, अपराध न्यूज़

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

गाजीपुर: भाजपा सरकार के कथनी व करनी में अंतर: निर्भया के नाम पर बनें अस्पताल में जाने के लिए अभी नही बना सम्पर्क मार्ग

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर जनहित में अत्यन्त महत्वपूर्ण सड़क मार्ग का नव निर्माण हेतु प्रस्ताव पूर्व में बलिया सांसद के द्वारा भेजा गया था जिसका नाम-ग्राम सियाड़ी में इंटरमीडीएट टॉपर अनन्या राय के घर तक संपर्क मार्ग से निर्भया(दामिनी) अस्पताल तक संपर्क मार्ग नवनिर्माण कार्य दूरी 1.5 किमी है जो कटवा-लठ्ठूडीह जिला मुख्यालय मार्ग गाजीपुर को जोड़ता है, जो कार्यालय मुख्य अभियंता वाराणसी क्षेत्र, लोक निर्माण विभाग, वाराणसी के पत्रांक 19318 दिनांक 4/12/2018 द्वारा शासन के अनुभाग-9 में गया हुआ है ये सड़क मार्ग क्षेत्र के जनता के स्वास्थ्य के लिए अस्पताल तक जाने के लिए नितांत आवश्यक है| जिसकी आज तक स्वीकृति नहीं प्रदान की गई | 

क्षेत्र के सियाड़ी, शाहपुर, बासनीया, बलियरीया, चरखा, सुरनी, महेंद, दुलारपुर, मडई, पूनीपुर, भूसहुला, मुँडे़रा, टीकापुर, श्रीपुर, खैराबारी आदि दर्जन भर ग्राम के 20 – 30 हजार जनता को इस संपर्क मार्ग बन जाने से लाभ होगा एक तरफ़ जहाँ सरकार और बीजेपी निर्भया के नाम पर ट्रेन चलाया, तमाम उसके नाम पर योजनाएं चलाई जा रही है और उसके नाम पर अस्पताल का निर्माण किया गया है लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि वहां जाने के लिए गाजीपुर के क्षेत्र के जनता जो जाने के लिए कोई नजदीकी संपर्क मार्ग नहीं है इसको देखते हुए पूर्व में बलिया सांसद द्वारा प्रस्ताव भेजा गया था 

लोक निर्माण विभाग तृतीय गाजीपुर को जिसपर लोक निर्माण विभाग तृतीय गाजीपुर द्वारा आगणन शासन में दिनांक 4 दिसंबर 2018 को अनुभाग – 9 में जमा करा दिया गया था जिसकी आज तक स्वीकृति नहीं प्रदान की गई है जो आज भी स्वीकृति हेतु प्रतीक्षा रत है ग्यात हो कि निर्भया का कुछ दुष्टों द्वारा सामुहिक दुष्कर्म करके कत्ल कर दिया गया था जिसके बाद पूरे देश में जन मानस में उबाल आ गया था जिसपर सरकार ने उसके नाम पर तमाम योजनाएं संचालित की उसी क्रम में उसके नाम पर बलिया – गाजीपुर बार्डर जो बलिया संसदीय क्षेत्र में आता है विकास खण्ड भाँवरकोल जनपद गाजीपुर से लगता है लेकिन उस अस्पताल तक जाने के लिए गाजीपुर के दर्जनों गाव के लोंगो को कोई नजदीकी मार्ग नहीं इसी को देखते हुए पूर्व में बलिया सांसद के द्वारा प्रस्ताव भेजा था था लोक निर्माण विभाग तृतीय गाजीपुर को लेकिन आज तक यह रोड स्वीकृत ही नहीं हुआ 

सरकार का विकास का दावा सिर्फ़ हवा हावाई है जमीन पर कहिं नजर नहीं आ रहा क्षेत्र के लोंगो की माँग पर इसी क्रम में माननीय बलिया सांसद श्री वीरेंद्र सिंह मस्त जी द्वारा भी 1 दिसंबर को उप मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश केशव प्रसाद को स्वीकृति हेतु पत्र लिखा गया है अब देखना है कि उनके पत्र को सरकार कितना गंभीरता से लेती है और अस्पताल तक गाजीपुर के लोंगो को जाने के लिए सम्पर्क मार्ग का निर्माण कराती है या सिर्फ़ सरकार का साहसिक लड़की निर्भया के प्रति किये गये वादे सिर्फ़ हवा हवाई ही साबित होते हैं

No comments:

Post a Comment

Post Top Ad