Breaking News

गाजीपुर: सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान व तंबाकू सेवन करने पर भरना पड़ेगा जुर्माना

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ओर से राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके माध्यम से धूम्रपान और तंबाकू के सेवन की रोकथाम करने के लिए जागरूकता फैलाई जा रही है। इसी क्रम में सोमवार को पुलिस लाइन के प्रशिक्षण हाल में जागरूकता एवं कानूनी जानकारी को लेकर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया है। इसमें पुलिस लाइन में तैनात करीब 400 पुलिसकर्मियों को तंबाकू नियंत्रण संबंधी जानकारी दी गयी। इस कार्यक्रम में पुलिस लाइन में तैनात सभी पुलिसकर्मियों को तंबाकू को लेकर कानूनी जानकारी विशेषरूप से तंबाकू उत्पाद अधिनियम 2003 (कोटपा) के बारे में जानकारी दी गई। इस दौरान एसीएमओ डा. प्रगति कुमार ने बताया कि इस अधिनियम के अंतर्गत धारा 4 के तहत सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करना प्रतिबंध है। 


वहीं धारा 5 के अंतर्गत सिगरेट और तंबाकू उत्पादों के विज्ञापन पर प्रतिबंध हो गया है, धारा 6 के अंतर्गत 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति को और किसी शैक्षणिक संस्थान के 100 गज की परिधि में सिगरेट, तंबाकू उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया है। कोटपा के उल्लंघन के लिए दंड की प्रक्रिया भी निर्धारित की गई है। इसमें धारा 4 का उल्लंघन करने पर व्यक्तिगत अपराध के लिए 200 रुपये तक जुर्माना एवं स्वामी प्रबंधक या अधिकृत अधिकारी के लिए सार्वजनिक स्थानों में अपराधों की संख्या के बराबर जुर्माना निर्धारित किया गया है। धारा 5 का उल्लंघन करने पर 1000 रुपये का जुर्माना, धारा 6 का उल्लंघन करने पर 200 रुपये का जुर्माना। 


धारा 7, 8 और 10 का उल्लंघन करने पर दो वर्ष की सजा या 5000 रुपये का जुर्माना निर्धारित किया गया है। वहीं कोई दुकानदार की ओर से किसी विद्यालय या प्रतिष्ठित स्थान पर खुदरा बिक्री करने पर एक वर्ष की सजा या 1000 रुपये का जुर्माना हो सकता है। डा. केके सिंह ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश तंबाकू से होने वाले नुकसान के प्रति लोगों को जागरूक करना है। जिसके लिए समय-समय पर आम जनमानस को जानकारी देने का कार्य किया जाता है। देश में लगभग आठ लाख भारतीय प्रतिवर्ष तंबाकू सेवन से मृत्यु होती हैं। 


भारत में कैंसर से मरने वाले 100 में से 40 लोग तंबाकू के प्रयोग करने के कारण ही मृत्यु होती है। इसमें लगभग 95 प्रतिशत लोग मुंह के कैंसर से ग्रसित होते हैं। इस अवसर पर एसीएमओ डा. केके वर्मा, जिला कंसलटेंट रवि शंकर चौरसिया, एनटीसीपी के एसीपी डा. अभिषेक, आरआई पुलिस लाइन चंद्र भूषण सिंह सहित आदि लोग मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();