Breaking News

Virat Kohli की कप्तानी में टीम इंडिया की सबसे बड़ी हार, जानिए मैच के 5 मुजरिम

ऑस्ट्रेलिया 15 साल के बाद टीम इंडिया को उसी के घर में 10 विकेट से हराने वाली दूसरी टीम बन गई है। इससे पहले भारत को 2005 में दक्षिण अफ्रीका ने कोलकाता वनडे में 10 विकेट से धूल चटाई थी। जानिए, वानखेड़े स्टेडियम में कौन रहे पहले वनडे मैच के मुजरिम....

1. विराट कोहली : कमजोर टीमों के खिलाफ बड़ी-बड़ी पारियां खेलकर रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड दर्ज करने वाले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ऑस्ट्रेलियाई तेज आक्रमण के आगे फुस्सी बम साबित हुए। विराट ने 14 गेंदों में केवल 16 रन बनाए। एडम जम्पा ने अपनी स्पिन के जाल में विराट को उलझाया और खुद ही उनका कैच लपक लिया।

2. रोहित शर्मा : मैच से पहले सोमवार को अपनी अंगुली तुड़वाने के बाद भी रोहित शर्मा अपने घर मुंबई में खेलने का लोभ नहीं छोड़ पाए। रोहित जैसे क्रिकेटर ने पिछले साल वर्ल्ड कप में सर्वाधिक 5 शतक ठोंकने का रिकॉर्ड बनाया था लेकिन आज वे 5वें ओवर में मिचेल स्टार्क की कहर बरपाती गेंद को समझ नहीं सके और केवल 10 रन पर अपना विकेट गंवा बैठे। रोहित जब आउट हुए तब टीम इंडिया का स्कोर मनहूस अंक 13 था। रोहित इसलिए मुजरिम है क्योंकि उन्हें एक मजबूत शुरुआत देनी थी।

3. जसप्रीत बुमराह : आईसीसी वनडे रैंकिंग में दुनिया के नंबर एक गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने तो खराब गेंदबाजी की ही साथ ही अन्य तेज गेंदबाज भी नहीं चले। चोटिल बुमराह ने 5 महीने के बाद श्रीलंका के खिलाफ टी20 में वापसी की थी, जो 2 मैचों में 1-1 विकेट ही हासिल कर सके थे लेकिन वानखेड़े स्टेडियम में उनकी गेंदों में पहले जैसा पैनापन नदारद था। ऑस्ट्रेलिया की सलामी जोड़ी (वॉर्नर और फिंच) ने जमकर रन कूटे। बुमराह 7 ओवर में 50 रन लुटाकर खाली हाथ रहे।

4. शार्दुल ठाकुर : कप्तान विराट कोहली का टीम संयोजन ही खराब था। उन्होंने इस मैच में शार्दुल ठाकुर को मौका देकर गलती की। ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की स्पिन कमजोरी को देखते हुए उन्हें लेफ्टआर्म स्पिनर युजवेंद्र चहल को मौका देना था। शार्दुल ने 5 ओवर में 43 रन खर्च कर डाले। उनकी प्रभावहीन गेंदबाजी के कारण वे भी मैच के मुजरिम करार दिए जाएंगे

5. खराब क्षेत्ररक्षण : टीम इंडिया का पहले वनडे मैच में बेहद खराब क्षेत्ररक्षण रहा। ऐसा लग ही नहीं रहा था कि भारतीय दिग्गज खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया जैसी प्रोफेशनल टीम के खिलाफ खेल रहे हैं। कप्तान विराट कोहली के लिए गए DRS भी असर नहीं छोड़ पाए। एक में भी उन्हें कामयाबी नहीं मिली। कुल मिलाकर इस मैच के तीनों ही क्षेत्रों (बल्लेबाजी, गेंदबाजी, क्षेत्ररक्षण) में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेदम साबित हुई। खुद विराट ने भी इस जुर्म को स्वीकार किया।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();