Breaking News

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की महिला प्रोफेसर और तीन छात्राओं ने खोजी कोरोना वायरस के जांच की सरल तकनीक

गाजीपुर न्यूज़ टीम, वाराणसी। देश दुनिया में भयावहता का पर्याय बने कोरोना वायरस के जांच की जटिलता को नारी शक्ति ने काशी में हल कर दिया है। अब घण्टों जांच का काम एक घण्टे में हो जाएगा और रिस्क भी इसमें काफी कम है। 

दुनिया भर में कोरोना की भयावह स्थिति को देखते हुए बीएचयू की महिला प्रोफेसर की टीम ने महीने भर में COVID-19 (कोरोना वायरस) की सटीक जांच करने की तकनीक खोज लिया है और इसे पेटेंट कराने की प्रकिया भी फ़ाइल कर दी है। डॉ. गीता राय, एसोसिएट प्रोफेसर और उनकी टीम सुश्री डोली दास, खुशबू प्रिया और हीरल ठक्कर, डिपार्टमेंट ऑफ मॉलिकुलर एंड ह्यूमन जेनेटिक्स, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय द्वारा COVID-19 (कोरोना वायरस) के लिए 100% सटीक एक नई तरह का RT PCR आधारित नैदानिक ​​परीक्षण तकनीक तैयार किया गया है। डॉ. गीता राय का दावा है कि इस तकनीक से घंटे भर में जांच मिल जाएगी।


संक्षेप में यह विधा एक ऐसे अनोखे प्रोटीन सिक्वेंस को टारगेट करती है जो सिर्फ COVID-19 में मौजूद है तथा किसी और वायरल स्ट्रेन में मौजूद नहीं।

इस टेक्नोलॉजी की नवीनता के आधार पर एक पेटेंट भी फाइल किया गया है। भारतीय पेटेंट कार्यालय द्वारा किए गए पूर्व निरीक्षण में यह पाया गया कि देश में इस सिद्धांत पर RT-PCR आधारित कोई किट नहीं है जो कि इस तरह के प्रोटीन सिक्वेंस को टारगेट कर रहा हो।

देश में COVID-19 के संक्रमण की बढ़ती स्थिति एवं सटीक /विशिष्ट /तीव्र एवं सस्ते नैदानिक कीटों की कमी को यह नैदानिक परीक्षण इन सभी मापदंडों को पूरा कर सकता है। 


अनुदेशकों ने इस मामले में आगे मार्गदर्शन और समर्थन के लिए CDSCO और ICMR से संपर्क किया है ताकि इससे जनता तक ले जाया जा सके। इस तकनीक को वैलिडेट और पूर्ण रूप से विकसित करने के लिए सम्बंधित इंडस्ट्री की सहभागिता और सहयोग की आवश्यकता है। जल्द इस विषय पर कोई फैसला सरकार की ओर से लिया गया तो कोरोना वायरस की तेजी से जांच कर लोगों का इलाज समय से कर लोगों की जान बचाई जा सकेगी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();