'दूधिया' बन बाइक से घूम रहा था युवक, डिब्बा खुलवाया तो पुलिस वाले भी नहीं रोक पाए हंसी - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

मंगलवार, 24 मार्च 2020

'दूधिया' बन बाइक से घूम रहा था युवक, डिब्बा खुलवाया तो पुलिस वाले भी नहीं रोक पाए हंसी

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजियाबाद लॉकडाउन लागू होने के बाद भी बड़ी संख्या में लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं। कुछ लोग जरूरी कार्यों से बाहर आ रहे हैं, जबकि अधिकांश शौकिया घूमने के लिए कोई न कोई वजह बता रहे हैं। गाजियाबाद पुलिस ने विजयनगर क्षेत्र से ऐसे ही एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो फर्जी दूधिया बनकर घूम रहा था।

पुलिस ने खुलवाया तो उसकी चोरी पकड़ी गई। डिब्बे में दूध की एक बूंद भी नहीं थी। इतना ही नहीं डिब्बे के अंदर जंग लगी हुई थी। पुलिस ने तुरंत उसे गिरफ्तार कर बाइक को सीज कर दिया।

डिब्बे और लटकाने के तरीके से हुआ शक
विजयनगर थाने के एसएसआइ इमाम जैदी ने बताया कि वह टीम के साथ क्रॉसिंग रिपब्लिक में बैरिकेडिंग लगा चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान काले रंग की नई स्प्लेंडर बाइक पर सवार हो बम्हैटा निवासी विक्रम नाम का युवक आया और दूध की सप्लाई के लिए बैरिकेडिंग हटाने को कहा। इमाम जैदी के मुताबिक बाइक बिल्कुल नई थी, जैसी आम दूधियों की नहीं होती। डिब्बा और इसे बाइक पर लटकाने का तरीका भी अलग था।

पुलिसकर्मी ने भी नहीं रोक सके हंसी
पुलिस के कहने पर विक्रम ने डरते-डरते डिब्बा खोला। डिब्बे के अंदर देख मौके पर मौैजूद पुलिस वाले भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए, क्योंकि डिब्बे में अंदर पूरी तरह जंग लगी हुई थी। एसएचओ नागेंद्र चौबे ने बताया कि पुलिस पूछताछ में विक्रम लॉकडाउन के दौरान बाहर निकलने की कोई भी सही वजह नहीं बता पाया। उसके मुताबिक वह दूधिया बनकर घूमने निकला था। इस कारण बाइक को सीज कर विक्रम को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपित के खिलाफ शांतिभंग की धारा के तहत चालान किया गया है।

खोड़ा में सबसे ज्यादा एफआइआर
लॉकडाउन में बाधा बने लोगों के खिलाफ पुलिस आइपीसी की धारा 188 के तहत एफआइआर दर्ज कर रही है। सोमवार दोपहर 12 बजे से मंगलवार सुबह 10 बजे तक 22 घंटे में जिले भर में 110 केस दर्ज किए गए, जिनमें 494 लोगों को आरोपित बनाया गया है। इसके साथ ही पुलिस ने 2838 वाहनों का चालान किया और 101 वाहन सीज किए गए। जिले के 18 थानों में से खोड़ा में सबसे ज्यादा 14 मुकदमे दर्ज किए गए तो वहीं भोजपुर में लोगों ने लॉकडाउन को सबसे ज्यादा समर्थन दिया। यहां उल्लंघन का एक भी केस दर्ज नहीं हुआ। हालांकि 116 वाहनों का चालान किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad