गाजीपुर लॉकडाउन का पहला दिन: घरों में शोर, सड़कों पर सन्नाटा - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, Ghazipur News, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, Ghazipur Crime News

Breaking News

Post Top Ad

Post Top Ad

बुधवार, 25 मार्च 2020

गाजीपुर लॉकडाउन का पहला दिन: घरों में शोर, सड़कों पर सन्नाटा

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद लोगों ने बुधवार से अपने-आप को अपने घरों में कैद कर लिया है। लाक डाउन के पहले दिन शहर से लेकर गांवों तक घरों में बच्चों की धमा-चौकड़ी से शोर होता रहा लेकिन बाहर सड़कों पर घुप्प सन्नाटा पसरा रहा। बाजार में केवल किराना व इक्का-दुक्का सब्जी-फल की दुकानें खुली रहीं, वह भी दोपहर 12 बजे तक। अपने जरूरत के सामान वैसे तो अधिकतर लोग पहले से ही रखे हुए हैं लेकिन जिन्हें जरुरत पड़ी, वह किराना की दुकानों से ले आए। पूरे दिन लोगों के मन में तरह-तरह की आशंकाएं उठती रहीं। लोग एक अनजाने खतरे से डरे हुए हैं। कुछ एक जगहों पर लोग दिखे भी जो कोरोना से लड़ाई के लिए फिक्र की बात है।

बुधवार की सुबह कुछ बदली-बदली सी थी। लोग अपने दैनिक कार्यों से निवृत्त होकर आफिस या अन्य व्यवसायिक कार्यों के लिए जाने की जल्दी में नहीं थे। स्कूलों की छुट्टी होने से बच्चों की भी मौज है। अरसे बाद पूरा परिवार पूरे दिन एकत्र हुआ। नाश्ता व भोजन के बाद कुछ लोग टीवी पर देश-दुनिया का हाल देखने लगे तो कुछ लोग स्मार्टफोन में गुम हो गए। किसी ने कैरम बोर्ड व लूडो सजा लिया। बच्चे बीच-बीच में शोर-शराबा कर माहौल को खुशनुमा बनाते रहे। इस सबसे के बाद भी सभी के मन में एक अनजाना सा भय समाया हुआ है कि न जाने क्या होगा। इसका उत्तर शायद किसी के पास नहीं है। इसी तरह सुबह से दोपहर, दोपहर से शाम व शाम से रात हो गई, लोग भारी मन लिए अपने-अपने बिस्तर में दुबक गए। हालांकि इतना जरुर लग रहा कि लोगों ने इस महामारी से लड़ने के लिए खुद को तैयार कर लिया है।

सुबह छह बजे खुल गईं किराना व सब्जी की दुकानें
सैदपुर : तीन सप्ताह तक देश के लाकडाउन किए जाने के पहले दिन बुधवार को सब्जी, किराना व दवा की दुकानें छोड़कर पूरा बाजार पूरी तरह बंद रहा। स्थानीय नगर समेत ग्रामीण अंचलों में सियापा छाया रहा। पुलिस जगह-जगह लाउडस्पीकर के जरिए घर में रहने की उद्घघोणा कर रही थी। लोग घरों से बाहर निकलने में परहेज कर रहे थे। हालांकि कुछ लोग बाइक से निकल रहे थे जिन्हें पुलिस वापस भेज दी रही थी। सुबह छह बजे ही बाजार की किराना, सब्जी की दुकानें खुल गई। जरूरत की सामान लेने के लिए आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। सूचना पाकर पुलिस पहुंची और भीड़ को हटाया। साथ ही कहा कि एक-एक कर सामान लें। भीड़ न लगाए। घरों से निकलने में परहेज करें। सीओ महिपाल पाठक, कोतवाल श्यामजी यादव, वरिष्ठ उप निरीक्षक सुधाकर राय, कस्बा चौकी इंचार्ज सुनील दुबे समेत सभी उप निरीक्षक महिला पुरुष सुबह ही सड़क पर निकल गए। फालतू सड़कपर घूम रहे लोगों को फटकार लगाई। कई जगहों पर डंडे का भी प्रयोग लोग कर रहे थे।

जखनियां : प्रदेश में लाकडाउन होने से कस्बे में पूरी तरह से सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। क्षेत्र की जनता व कस्बा के दुकानदारों ने प्रधानमंत्री द्वारा किया गया आह्वान का समर्थन करते हुए स्वत: ही अपनी दुकानें बंद रखी। पुलिसकर्मी भी पूरे दिन चक्रमण करते हुए लोगो को घरों में रहने की हिदायत देते रहे। सड़कों पर चलने वालों को चेतावनी देकर वापस भी किया। कुछ राहगीरों के साथ झड़पें भी हुईं। कस्बा के यूनियन बैंक ग्रामीण बैंक व एलआईसी की आफिस सुबह दस बजे खुली परंतु पूरी तरह से सन्नाटा रहा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad