Breaking News

शराब पीकर सो गया स्टेशन मास्टर, दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर खड़ी रहीं फरक्का, मगध एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें

गाजीपुर न्यूज़ टीम, औरैया. कंचौसी रेलवे स्टेशन पर गुरुवार रात शराब पीने के बाद सहायक स्टेशन मास्टर सो गए और ट्रेनों का परिचालन ठप हो गया। इस वजह से करीब डेढ़ घंटे तक दिल्ली-हावड़ा रेल रूट ठप रहा। इसके चलते वैशाली एक्सप्रेस, संगम एक्सप्रेस, फरक्का और मगध एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के अलावा कई मालगाड़ियां जहां की तहां खड़ी रहीं। परिचालन कंट्रोल से फोन पहुंचने पर आनन-फानन स्टेशन अधीक्षक पहुंचे और ग्रीन सिग्नल देकर ट्रेनों का संचालन शुरू कराया। लापरवाही पर वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक प्रयागराज ने सहायक स्टेशन मास्टर को चार्ज शीट थमा सस्पेंड कर दिया है। 

कंचौसी रेलवे स्टेशन पर सुबह की शिफ्ट खत्म होने के बाद दूसरी शिफ्ट (रात 12 से सुबह आठ बजे तक) में सहायक स्टेशन मास्टर अनिरुद्ध कुमार मुस्तैद थे। रेलवे स्टेशन पर ड्यूटी के समय रात में उन्होंने शराब पी ली। शराब पीने के कुछ देर बाद वह सो गए। जिस कारण दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर दौड़ रही ट्रेनों को कंचौसी स्टेशन के होम सिग्नल पर सिग्नल नहीं मिला। ट्रेनों के रुकने पर फफूंद रेलवे स्टेशन व झींझक स्टेशन मास्टर ने परिचालन कंट्रोल को सूचना दी।


एक्सप्रेस व गुड्स ट्रेनों का परिचालन ठप होने की जानकारी पर अधिकारियों के होश उड़ गए। रेलवे स्टेशन स्टाफ में भी अफरातफरी मच गई। आनन-फानन में जानकारी मिलने पर स्टेशन अधीक्षक विशम्भर दयाल पांडेय ने रेलवे स्टेशन पहुंचकर सो रहे स्टेशन मास्टर के मुंह पर पानी डाला। इसके बाद ग्रीन सिग्नल देकर ट्रेनों का संचालन शुरू कराया। शुक्रवार सुबह स्टेशन मास्टर का मेडिकल टूंडला जंक्शन स्थित रेलवे अस्पताल में कराया।


विशम्भर दयाल ने बताया कि रात करीब 12.10 से 1.30 बजे तक रेल रूट बाधित रहा। वैशाली एक्सप्रेस, संगम एक्सप्रेस, फरक्का, मगध एक्सप्रेस समेत सात गुड्स ट्रेन बाधित हुई। रात करीब दो बजे तक रेल रूट सामान्य हो सका था। वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक प्रयागराज एसके शुक्ल ने सहायक स्टेशन मास्टर को सस्पेंड कर दिया है। जनसंपर्क अधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि पूरे मामले की जानकारी की जा रही है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद स्टेशन मास्टर के शराब पीने की पुष्टि होगी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();