Breaking News

MDH मसाला कारोबारी की पत्नी की मौत, मायके वाले बोले- हत्या कर शव फांसी पर लटकाया

गाजीपुर न्यूज़ टीम, कानपुर. कानपुर शहर में नामचीन सब्जी मसाला उत्पाद MDH के डिस्ट्रीब्यूटर की पत्नी की संदिग्ध हालात में शुक्रवार की देर रात मौत हो गई। विवाहिता का शव कमरे के अंदर फांसी के फंदे पर लटका मिलने से सनसनी फैल गई। मायके वालों ने सब्जी मसाला कारोबारी पर पत्नी की हत्या के बाद शव फांसी के फंदे पर लटकाने का आरोप लगाया है, वहीं ससुरालीजन आत्महत्या करने की बात कह रहे हैं। घटनास्थल पर फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए है और पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

काकादेव निवासी प्लास्टिक के जरीकैन की फैक्ट्री संचालक पवन ग्रोवर ने बेटी आंचल की शादी 9 फरवरी 2019 को नजीराबाद थानांतर्गत अशोक नगर निवासी नामचीन सब्जी मसाला उत्पाद के डिस्ट्रीब्यूटर सूर्यांश खरबंदा से की थी। शुक्रवार रात करीब दो बजे सूर्यांश के घर से पुलिस को आंचल के आत्महत्या करने की सूचना दी गई। इसपर पुलिस सूर्यांश के घर पर पहुंची तो आंचल का शव कमरे में पंखे के कुंडे से लटक रहा था। घर से सूर्यांश समेत सभी परिवारी सदस्य फरार थे। इसपर पुलिस ने मायके में घटना की सूचना दी।

जानकारी मिलते ही पवन ग्रोवर, उनके बेटे अक्षय ग्रोवर व रिश्तेदार अशोक नगर पहुंच गए। भाई अक्षय ग्रोवर ने बताया कि शादी के बाद से बहन को दहेज के लिए सूर्यांश अक्सर तंग करता था। अपनी हैसियत से ज्यादा उसे दहेज दे चुके थे लेकिन सूर्यांश लगातार उनपर दबाव बना रहा था। उन्होंने आरोप लगाया कि सूर्यांश के अन्य युवतियों से अवैध संबंध हैं और वह उनकी बहन को प्रताड़ित करता था। 12 नवंबर को जेवर चुराकर सूर्यांश ले जाने लगा तो आंचल ने देख लिया। इसपर आंचल ने पुलिस को सूचना दी लेकिन सूर्यांश के दबाव में पुलिस कर्मी वापस लौट गए। इसके बाद 13 नवंबर को फिर सूर्यांश और आंचल के बीच जेवर को लेकर बहस हुई लेकिन पुलिसने कोई कार्रवाई नहीं की।ये भी पढ़े: MDH मसाले कारोबारी की नौकरानी बोली- पत्नी को कमरा बंद करके पीटते थे, बाहर से आती थीं लड़कियां

भाई अक्षय ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने से सूर्यांश का हौसला बढ़ गया और उसने आंचल की हत्या करके आत्महत्या का रूप देने के लिए शव पंखे के कुंडे से फांसी के फंदे पर लटका दिया। एसीपी नजीराबाद संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर आंचल की मौत की वजह स्पष्ट हो सकेगी। आंचल के परिवार वालों की ओर से तहरीर मिलने पर ही पुलिस मुकदमा दर्ज करके कार्रवाई कर सकेगी।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();