गाजीपुर: 22 लाख रुपये का गबन के आरोपी बैंक मैनेजर समेत तीन पर केस - Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

Ghazipur News ✔ | ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | Ghazipur Samachar in Hindi ✔

गाजीपुर न्यूज़, ग़ाज़ीपुर ब्रेकिंग न्यूज़, गाजीपुर खेल समाचार, गाजीपुर राजनीति न्यूज़, गाजीपुर अपराध समाचार

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

सोमवार, 7 अक्तूबर 2019

गाजीपुर: 22 लाख रुपये का गबन के आरोपी बैंक मैनेजर समेत तीन पर केस

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गाजीपुर यूनियन बैंक के सेविंग एकाउंट से 22 लाख रुपये का गबन किये जाने के गम्भीर मामले में पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने बैंक मैनेजर समेत दो अन्य लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। शहर कोतवाली पुलिस पूरे प्रकरण की जांच में जुट गई है।

जमानियां के राजपुर गांव निवासी वृजेन्द्र राम पुत्र सद्धन राम के अनुसार शहर कोतवाली के गोड़ा शहरी में उनका भू-खंड है। जिसमें से एक बिस्वा जमीन उसने देवेन्द्र सिंह की पत्नी निवासी गुम्मा थाना जंगीपुर को रजिस्ट्री कर दिया था। रजिस्ट्री के बाद देवेन्द्र सिंह ने एक बार उसे तीन लाख रुपये का चेक दिया, दूसरी बार दस लाख व दोबारा तीन लाख रुपये का चेक दिया था। पीड़ित के अनुसार उसका खाता यूनियन बैंक आफ अंडिया शाखा महाजनटोली प्रकाश टाकिज में है। 

जब उसके खाते में पैसा नहीं पहुंचा तो वह परेशान हो गया। इसी दौरान अवधेश यादव निवासी फुल्लनपुर, रोहित सिंह निवासी फुल्लनपुर ने बैंक मैनेजर की मिलीभगत से बूजेन्द्र के खाते से 22 लाख रुपये ट्रांसफर करा लिया। इसकी जानकारी होने के बाद पीड़ित बैंक व कोतवाली का चक्कर लगाने लगा। पीड़ित के अनुसार उसके खाते में कुल चालीस लाख रुपये थे। जिसमें से 22 लाख रुपये ट्रांसफर करा लिया गया है। 

पीड़ित ने जब इसकी शिकायत मैनेजर राकेश सिन्हा समेत अवधेश यादव व रोहित सिंह से की तो उन्होंने कोई संतुष्ट जबाब नहीं दिया। पीड़ित ने एएसी सिटी का दरवाजा खटखटाया। उनके कहने पर दो दिन पूर्व बैंग मैनेजर समेत अवधेश यादव व रोहित सिंह के खिलाफ भादंवि की धारा 419, 420, 467, 468, 471 व 506 के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है। कोतवाल धनंजय मिश्रा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जो भी दोषी पाया जायेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();

Post Top Ad