Breaking News

उत्तर प्रदेश: अवैध संबंध के शक में पत्नी पर फेंका तेजाब, पति गिरफ्तार

गाजीपुर न्यूज़ टीम, गोरखपुर जिले के गुलरिहा क्षेत्र के जंगल डुमरी नंबर एक, तेतरिया टोले में पत्नी के ऊपर तेजाब फेंकने के आरोपित श्रीराम निषाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की माने तो पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। गांव के ही एक व्यक्ति के साथ पत्नी का अनैतिक रिश्ता होने के संदेह में उस पर तेजाब फेंकने की बात कही है। एसपी नार्थ अरविंद कुमार पांडेय ने बताया कि गुलरिहा बाजार में स्टेट बैंक के पास से उसे गिरफ्तार किया गया। उस समय वह भागने की फिराक में था। उसके गुलरिहा बाजार में होने का पता चलते ही उप निरीक्षक अरविंद कुमार यादव और हेड कांस्टेबल हरेंद्र सिंह ने मौके पर पहुंच कर उसे दबोच लिया। शाम को उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 


जंगल डुमरी नंबर एक तेतरिया टोला निवासी श्रीराम की पत्नी नीलम (34) शुक्रवार की रात बेटी के साथ कमरे में लेटकर टीवी देख रही थीं। इसी दौरान श्रीराम ने उनके ऊपर तेजाब फेंक दिया था, जिससे उनका चेहरा बुरी तरह से झुलस गया। तेजाब के छींटे बेटी के चेहरे पर भी पड़ गए थे, जिससे वह भी झुलसी है। मेडिकल कालेज में दोनों का उपचार चल रहा है। तेजाब फेंके जाने के दूसरे दिन एसपी नार्थ ने मेडिकल कॉलेज जाकर नीलम का बयान दर्ज किया था। इस दौरान उन्होंने बताया था कि तेजाब फेंकने के दौरान पति के दो दोस्त भी मौजूद थे। उनकी मदद से ही पति ने उसके ऊपर तेजाब फेंका था। नीलम ने पति के जिन दो दोस्तों का नाम लिया था, वे भी उसी गांव के रहने वाले हैं। उनके बयान के आधार पर पुलिस उन्हें तलाश करते हुए पहुंची थी, लेकिन घर में ताला बंद कर दोनों घर से फरार मिले। 


उनको अभियुक्त बनाए जाने के बारे में पूछने पर एसपी नार्थ ने कहा कि पूछताछ में अभियुक्त ने दोस्तों के घटना में शामिल होने की बात कबूल नहीं की है, इसलिए उन्हें अभियुक्त नहीं बनाया जाएगा। नीलम, श्रीराम की तीसरी पत्नी हैं। दोनों के उम्र में 21 वर्ष का अंतर है। नीलम की उम्र जहां 34 वर्ष है, वहीं श्रीराम 55 वर्ष का है। मीडिया के सामने पेश किए जाने पर श्रीराम से जब पूछा गया कि उसने तेजाब क्यों फेंका तो जवाब था कि उसको अपनी खूबसूरती पर काफी गुमान था। उसका यह गुमान तोडऩे के लिए ही उसके चेहरे पर तेजाब फेंका। श्रीराम ने कहा कि वह पत्नी की हत्या नहीं करना चाहता था। हत्या करने के सौ तरीके होते हैं, चाहता तो उसे आसानी से मौत के घाट उतार देता। तेजाब से वह उसका चेहरा खराब करना चाहता था, ताकि दूसरे लोग उससे संबंध बनाने की कोशिश न करें और वह उसके साथ रहकर घर-परिवार की देखभाल करे। श्रीराम ने बताया कि उसका एक दोस्त बैट्री में डाले जाने वाले तेजाब की दुकान पर काम करता है। उसी से उसने ट्रैक्टर की बैट्री में डालने के बहाने तेजाब लिया था। दोस्त से उसने बेहतर किस्म का तेजाब देने की सिफारिश की थी। वही तेजाब उसने पत्नी के ऊपर डाला था।

कोई टिप्पणी नहीं

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();